28 फीसदी की जगह लगेगा 18 फीसदी जीएसटी, 99 फीसदी सामान होंगे सस्ते

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संकेत दिए है कि जल्द 99 फीसदी सामान को जीएसटी के 18 फीसदी वाले दायरे में लाने की योजना है। उन्होंने कहा किए कुछ चीजें ही 28 फीसदी जीएसटी दायरे में रहेंगी, बाकी चीजें 18 फीसदी या उससे कम जीएसटी दायरे में रहेंगी। अगर ऐसा होता है तो करीब 35 चीजें सस्ती हो जाएंगी। इनमें एसी, डिजिटल कैमरा, कार जैसी चीजें शामिल है। हालांकि, सरकार साफ कर चुकी हैं कि सिगरेट और तांबकू प्रोडक्ट को 28 फीसदी के जीएसटी दायरे से बाहर नहीं किया जाएगा। जीएसटी पर बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हमारे देश में दशकों से जीएसटी की मांग थी। हम संतोष के साथ कह सकते हैं कि जीएसटी लागू होने के बाद बाजार की विसंगतियां दूर हो रही हैं और सिस्टम की कार्यक्षमता बढ़ रही है। अर्थव्यवस्था में पारदर्शिता की तरफ हम बढ़ रहे हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि शुरुआती दिनों में जीएसटी अलग-अलग राज्यों में वैट और एक्साइज की जो व्यवस्था थीए उसी की छाया में आगे बढ़ रहा था। जैसे-जैसे विचार-विमर्श हुआ, धीरे-धीरे इसमें भी बदलाव आते रहे। विकसित देशों में भी छोटे-छोटे टैक्स रीफॉर्म लागू करना आसान नहीं होता है।

एक करोड़ से अधिक हुई रजिस्टर्ड इंटरप्राइजेज की संख्या

पीएम मोदी का कहना है कि जीएसटी लागू से पहले रजिस्टर्ड इंटरप्राइजेज की संख्या मात्र 66 लाख थी, जो अब बढक़र एक करोड़ 20 लाख हो गई है। पीएम ने कहा कि पूरे भारत ने एक मन होकर, इतने बड़े टैक्स रीफॉर्म को लागू करने के लिए प्रयास किया। हमारे कारोबारियों और लोगों के इसी जज्बे का परिणाम है कि भारत इतना बड़ा बदलाव करने में सफल हो सका है। जीएसटी पर बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हमारे देश में दशकों से जीएसटी की मांग थी। हम संतोष के साथ कह सकते हैं कि जीएसटी लागू होने के बाद बाजार की विसंगतियां दूर हो रही हैं और सिस्टम की कार्यक्षमता बढ़ रही है। अर्थव्यवस्था में पारदर्शिता की तरफ हम बढ़ रहे हैं।

"To get the latest news update download tha app"