Breaking News
अधिकारी की कलेक्टर को नसीहत, 'आपकी कार्यशैली पर लज्जा आती है, तबादला करा लें' | दागियों का कटेगा टिकट, साफ-सुथरी छवि के नेताओं को चुनाव में उतारेगी भाजपा | फ्लॉप रहा कांग्रेस का 'घर वापसी' अभियान, सिर्फ कार्यकर्ता लौटे, नेताओं ने बनाई दूरी | शिवराज कैबिनेट की बैठक ख़त्म, इन प्रस्तावों पर लगी मुहर | सीएम चेहरे को लेकर सोशल मीडिया पर जंग, दिग्विजय भड़के | मुख्यमंत्री के काफिले पर पथराव, महिदपुर- नागदा के बीच की घटना, पुलिस वाहन के कांच फूटे | अब भोपाल में राहुल ने फिर मारी आंख, वीडियो वायरल | एमपी की 148 सीटों पर खतरा, बिगड़ सकता है बीजेपी का चुनावी गणित | LIVE: ऊपर से टपकने वाले को नहीं मिलेगा टिकट : राहुल गांधी | राहुल की सभा में उठी सिंधिया को सीएम कैंडिडेट घोषित करने की मांग |

आम आदमी पर महंगाई की मार, इतना महंगा हुआ रसोई गैस सिलेंडर

नई दिल्ली।

पहले से ही मंहगाई की मार झेल रही आम जनता को मोदी सरकार ने एक बार फिर बड़ा झटका दिया है।गैस की कीमतों मे बढ़ोत्तरी की गई है। सब्सिडी वाला घरेलू गैस सिलेंडर 2.71 और गैर सब्सिडी सिलेंडर 55.50 रुपए महंगा हुआ। नई कीमतें 1 जुलाई यानी रविवार से लागू होंगी।एलपीजी की अंतरराष्ट्रीय दरों में तेजी और रुपये में गिरावट इसकी वजह बताई गई है।आज से दिल्ली में सब्सिडी वाले रसोई गैस सिलेंडर की कीमत  493.55 रुपये और  बिना सब्सिडी वाले एलपीजी सिलेंडर की कीमत 55.50 रुपये प्रति सिलेंडर हो जाएगी।

बता दे कि इससे पहले जून में भी घरेलू सिलेंडर 48 और कमर्शियल सिलेंडर करीब 76 रुपये महंगा हुआ था। तेल कंपनियां कुछ माह से लगातार गैस के रेट में इजाफा कर रही हैं। जिसके कारण गैस उपभोक्ताओं को परेशानियां हो रही है।

इंडियन ऑयल ने जानकारी देते हुए कहा है कि ग्राहकों के बैंक खाते में सब्सिडी हस्तांतरण बढ़ाकर शेष 52.79 रुपये (55.50 माइनस 2.71 रुपये) की क्षतिपूर्ति की जाएगी। जुलाई में ग्राहकों के खाते में सब्सिडी हस्तांतरण बढ़कर प्रति सिलेंडर 257.74 रुपये हो जाएगा, जो कि जून 2018 में 204.95 पैसे प्रति सिलेंडर था । इस प्रकार सब्सिडी वाले एलपीजी ग्राहक एलपीजी की अंतरराष्ट्रीय दरों में वृद्धि से सुरक्षित हैं। फिलहाल सब्सिडी वाले आम उपभोक्ता को साल में 14.2 किलो के 12 सिलेंडर सब्सिडी के तहत मिलते हैं।

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...