नहीं सुधर रही रुपए की सेहत, डॉलर के मुकाबले 72.45 पर बंद हुआ; महंगाई बढ़ने के संकेत

नई दिल्ली। सितंबर के दूसरे हफ्ते की शुरूआत भी रुपए में गिरावट के साथ हुई। सोमवार को डॉलर के मुकाबले रुपए 45  पैसे की गिरावट के साथ खुला। गिरावट के चलते यह 72.18 के स्तर पर खुला। वहीं शाम को बाजार बंद होने के साथ रुपए सबसे निचले स्तर 72.45  पर बंद हुआ। वहीं, शेयर मार्केट में भी रुपए गिरने की वजह से उथल पुथल रही। निफ्टी 11,562 पर बंद हुआ। जबकि सेंसेक्स 37,922 के स्तर पर बंद हुआ। 

आंतर्राष्ट्रीय बाजार में क्रूड आयल की बढ़ती कीमतों से तेल के दामों में पहले ही आग लगी है। इस बीच रुपए ने भी मुसीबत बढ़ी दी है। रुपए लगातार बीते कई दिनों से डॉलर के मुकाबले गिरता जा रहा है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों और इमर्जिंग इकोनॉमी के सामने खड़ी चुनौतियों का असर डॉलर के मुकाबले रुपये की मजबूती पर दिख रहा है। 

अभी और गिरेगा रुपए

आर्थिक मामले को जानकारों का मानना है कि जबतक अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हालातों में परिवर्तन नहीं आएगा, रुपए की सेहत भी सुधरनी मुश्किल है। अमेरिका और चीन के बीच चल रही ट्रेड वार के चलते दुनिया भर के बाजार पर असर डाला है। खासतौर से रुपए पर। ट्रेड वॉर शुरू होने की आशंका ने भी रुपए को कमजोर करने का काम किया है। इसका परिणाम ये हो रहा है कि निवेशक लगातार भारत से अपना पैसा वापस निकाल रहे हैं। रुपए में जारी गिरावट से इकोनॉमी के सामने कई चुनौतियां खड़ी हो रही हैं। अगर रुपए में यूं ही गिरावट जारी रहती है, तो विदेशों से देश में आने वाला सामान महंगा हो सकता है।