Breaking News
कैसे पूरी होगी शिवराज की यह घोषणा | कांग्रेस की उम्मीदों पर फिर पानी, बसपा ने जारी की प्रत्याशियों की पहली सूची | डंपर काण्ड: CM के खिलाफ याचिका खारिज, SC ने कहा-'चुनाव लड़ना है तो मैदान में लड़ें, कोर्ट में नहीं' | बीजेपी विधायक का आरोप, सवर्ण आंदोलन के लिए हो रही विदेशी फंडिंग | व्यापमं का जिन्न फिर बाहर: दिग्विजय ने शिवराज, उमा समेत 18 के खिलाफ किया परिवाद दायर | चुनाव लड़ने का इंतजार कर रहे बीजेपी के 70 विधायकों में मचा हड़कंप! | अधिकारी की कलेक्टर को नसीहत, 'आपकी कार्यशैली पर लज्जा आती है, तबादला करा लें' | दागियों का कटेगा टिकट, साफ-सुथरी छवि के नेताओं को चुनाव में उतारेगी भाजपा | फ्लॉप रहा कांग्रेस का 'घर वापसी' अभियान, सिर्फ कार्यकर्ता लौटे, नेताओं ने बनाई दूरी | शिवराज कैबिनेट की बैठक ख़त्म, इन प्रस्तावों पर लगी मुहर |

बावरिया ने विधायकों से कहा-बजट सत्र में सरकार को घेरो

भोपाल। प्रदेश कांग्रेस प्रभारी दीपक बाविरया ने कांग्रेस विधायक दल की बैठक में तल्ख लहजे में कहा है कि विधानसभा के बजट सत्र में सरकार की घेराबंदी के लिए अभी से जुट जाएं। जनता से जुड़े सवाल पूछे और प्रमाणों के साथ सदन में बात रखें। सवाल पूछकर सदन से गैर हाजिर न रहें। जिससे गलत संदेश जाता है। बावरिया गुरुवार शाम प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में उपचुनाव एवं बजट सत्र में सरकार की घेराबंदी करने को लेकर कांग्रेस विधायकों की बैठक ले रहे थे। बैठक में पीसीसी अध्यक्ष अरुण यादव एवं नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह भी मौजूद थे। 

    बावरिया ने विधायकों से कहा कि प्रदेश में हर स्तर पर भ्रष्टाचार है, किसान परेशान है, महिला अपराध थम नहीं रहे हैं। इन मुद्दों को जन आंदोलन बनाना है। विधायक जनता से जुड़े मुद्दों को सदन में उठाएं। इसके लिए संगठन भी उनकी हर संभव मदद करेगा। उन्होंने कहा कि शिवराज सरकार का यह आखिरी बजट सत्र है। बजट सत्र में सभी विधायक तैयारी से आए और प्रमाणिकता के साथ अपना पक्ष रखें, जिससे सरकार की घेराबंदी हो। बावरिया ने बैठक में विधायकों से कहा कि मप्र में जनता परेशान है, लेकिन हम मुद्दों को भुना नहीं पा रहे हैं। 


एक्टिविस्ट बताएंगे भ्रष्टाचार, विधायक सदन में उठाएंगे

इससे पहले बावरिया ने हाल ही में कांग्रेस का दामन थामने वाले पूर्व विधायक पारस सकलेचा, आरटीआई एक्टिविस्ट डॉ आनंद राय, आरटीआई विभाग के अध्यक्ष अजय दुबे, अमिताभ अग्निहोत्री से भी अलग से चर्चा की। इस दौरान बावरिया ने बताया कि उन्हें संगठन में किस तरह से काम करना है। आरटीआई सेल द्वारा सरकार के खिलाफ भ्रष्टाचार की जानकारी जुटाकर विधायकों को सौंपी जाएगी। जिसे वे विधानसभा में उठाएंगे। बैठक में मुख्य प्रवक्ता केके मिश्रा, प्रदेश कांग्रेस  सचिव मृणाल पंत, विधि विभाग के अध्यक्ष अजय गुप्ता (एडवोकेट), विचार विभाग के अध्यक्ष भूपेन्द्र गुप्ता, सामाजिक कार्यकर्ता अनिल गर्ग भी मौजूद थे। 

जून तक जनता के सामने होगा मेनिफेस्टो

प्रदेश कांग्रेस प्रभारी दीपक बावरिया ने कहा है कि प्रदेश कांग्रेस जून तक मेनिफेस्टो जारी कर देगी| चुनावी घोषणा पत्र जून तक जनता के सामने होगा| वहीं उन्होंने यह भी कहा कांग्रेस के हर विधायक पर हाईकमान की नज़र है|

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...