फरार इनामी आरोपी भाजपा नेता ने किया सरेंडर, चलती कार में भतीजी से किया था दुष्कर्म

छतरपुर।

अपनी ही मुंहबोली भतीजी के साथ दुष्कर्म करने वाले भाजपा नेता संतोष पाराशर ने पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया है।घटना के बाद से संतोष पिछले चार महिने से फरार चल रहा था। पुलिस ने उस पर 15  हजार का इनाम भी रखा था।संतोष के साथ उसके सहआरोपी ड्राइवर दीनदयाल पाराशर ने भी पुलिस के सामने सरेंडर किया है।पुलिस ने संतोष पाराशर और उसके ड्राइवर दीनदयाल पाराशर पर निभिन्न धाराओंं के तहत मामला दर्ज किया गया था।   घटना नौगांव थाना क्षेत्र की है।आज दोनों आरोपियों को कोर्ट मे पेश किया जाएगा।

  दरअसल,  24 फरवरी 2018 में भाजपा खेल प्रकोष्ठ के तत्कालीन जिला संयोजक संतोष पारासर ने घर के सामने रहने वाली मुंहबोली भतीजी को हवस का शिकार बना डाला और रिपोर्ट करने पर उसके परिवार को जान से मारने की धमकी दी थी।इसके बाद वह अपने ड्राइवर के साथ फरार हो गया था। इस मामले में बीते माह डीआईजी ने 15  हजार इनाम घोषित भी किया था। पीड़ित युवती ने मामला दर्ज कराने के साथ ही सीएम से भी इस मामले की शिकायत की थी। जिसके बाद से ही उसकी तलाश जारी थी।लेकिन सोमवार को संतोष ने अपने सहआरोपी ड्राइवर के साथ  एडिशनल एसपी कार्यालय पहुंचा और सरेंडर कर दिया । इसके बाद पुलिस पूछताछ के लिए नौगांव थाना ले गई। जहां पर पुलिस ने आरोपी की कार को जब्त करते हुए वारदात में प्रयुक्त की गई पिस्टल को बरामद करने के प्रयास किए गए। हालांकि घर की तलाशी लेने पर भी पुलिस को पिस्टल नहीं मिल पाई है।वही पीडि़ता और उसके परिजनों को बुलाकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में आरोपी संतोष पाराशर और पीडि़ता के सेंपल डीएनए टेस्ट के लिए कलेक्ट किए गए।मंगलवार को दोनों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया जाएगा।पुलिस ने फरियादी युवती की शिकायत पर आरोपी संतोष पाराशर व सहयोगी चालक दीनदयाल पाराशर के खिलाफ धारा 366, 368, 376,506 बी, 34 आईपीसी के तहत मामला दर्ज किया गया था।

"To get the latest news update download tha app"