Breaking News
जूडा का अनोखा विरोध, MYH के सामने लगाई समानांतर ओपीडी | संगठन नहीं शिवराज के चेहरे पर ही चुनाव लड़ेगी भाजपा | अटकलों पर लगा विराम, किसी भी कीमत पर नही बिकेगा किशोर कुमार का पुश्तैनी घर | अंतर्राज्यीय चंदन तस्कर गिरोह का पर्दाफाश, वर्दी का रौब दिखाकर करते थे तस्करी | शर्मनाक : 4 साल की मासूम से दुष्कर्म की कोशिश, आइसक्रीम का लालच देकर ले गया था आरोपी | दर्दनाक हादसा : स्कूल जा रहे बच्चों को ट्रक ने रौंदा, मौके पर मौत, | नपा के खिलाफ ठेकेदार ने शुरु की लोटन यात्रा, CMO बोले- नही मिलेगा एक भी पैसा | VIDEO : सरकार के खिलाफ कांग्रेस का अनोखा प्रदर्शन, आम चूसकर गुठलियां फेंकी | शिवराज जी, आप चिंता छोड़ जनआशीर्वाद यात्रा निकाले, मैं जनता को बताउंगा सच्चाई : कमलनाथ | आज से जूडा का आंदोलन शुरु, मांगे पूरी ना होने पर दी हड़ताल की चेतावनी |

नशे में धुत्त ASI ने दलित किसान को थाने में बुलाकर बेहरमी से पीटा, सस्पेंड

छतरपुर।

 पुलिस विभाग के मुखिया डीजीपी जहां एक तरफ पुलिस मित्र को बढ़ावा दे रहे हैं वहीं दूसरी तरफ इसी विभाग का नीचे का तबका लोगों से दुर्व्यवहार करने से बाज नहीं आ रहा है। पुलिस की काली करतूत का एक ऐसा ही सनसनीखेज मामला छतरपुर में देखने को मिला जहां नशे में धूत एक एएसआई ने मामूली विवाद के चलते एक दलित किसान की लाठी से बेहरमी से पिटाई कर दी।इतने पर भी एएसआई का मन नही भरा तो उसने लात-घूंसे भी चलना शुरु कर दिए। इस बर्बरता के लिए एएसआई को लाइन अटैच कर दिया गया है।

जानकारी के अनुसार, बमनौरा थाना अंतर्गत रहने वाले दलित गरीब गोरेलाल अहिरवार का अपनी पत्नी से पारिवारिक विवाद हो गया था। जिसकी शिकायत पत्नी ने रामटोरिया में पदस्थ एएसआई कहैन्या लाल गौड़ से की ।एएसआई ने गोरेलाल को थाने बुलाकर उसकी लाठियों से जमकर पिटाई कर दी।नशे में धुत्त पुलिसकर्मी ने उसे इतनी बेहरमी से पीटा की उसके शरीर पर लाल गहरे निशान पड़ गए , जिससे एएसआई की हैवानियत का अंदाजा लगाया जा सकता है। इसके बाद तहसील घुवारा में उसे 151  का केस बनाकर बिना मेडिकल के पेश किया गया और बाद में जमानत दे दी गई।जमानत मिलने के बाद गोरेलाल ने एएसआई की शिकायत एसडीओपी, एसपी, औरआईजी से की।लेकिन वहां भी उसे केवल कोरा आश्ननसन मिला है, इसके सिवाय कुछ नही।

वही थाना प्रभारी की माने तो मामले की जांच की जा रही है, वही  DIG अनिल माहेश्वरी के निर्देश पर ASI  को सस्पेड कर दिया गया है। विभागी जांच के बाद ASI पर आगे की कार्यवाही की जाएगी।


  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...