ASI हत्या मामला : पुलिस ने 8 आरोपियों को किया गिरफ्तार, इनमें 3 महिलाएं भी शामिल

छिंदवाड़ा/भोपाल।

मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा जिले में ASI की हत्या का मामले में पुलिस ने 8 आरोपियों को गिरफ्तार किया है।गिरफ्तार आरोपियों में तीन महिलाएं भी शामिल हैं। इससे पहले पुलिस ने 11 नामजद आरोपियों पर एफआईआर दर्ज की थी। IG अनंत कुमार सिंह आरोपियों की गिरफ्तारी की पुष्टि की है। वही कांग्रेस ने इस घटना की निंदा की है और कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े किए है।

दरअसल, मंगलवार रात को जिले के उमरेठ थाने की पुलिस पर अज्ञात बदमाशों ने  एएसआई नागले समेत उनकी टीम पर हमला कर दिया था। बाकी पुलिसकर्मी जैसे तैसे जान बचाकर निकल गए लेकिन नागले बदमाशों के हाथ लग गए और उन्होंने निहत्थे एसआई पर कुल्हाड़ी और लाठियों से हमला कर दिया और उनको मौत के घाट उतार दिया। नागले का शव जिला अस्पताल भिजवाया गया है।इसके बाद आज बुधवार को शहीद एएसआई देवचंद नागले को दोपहर 12:30 बजे कंट्रोल रूम छिन्दवाड़ा में गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया।।  पता चला है कि आरोपी शराब के नशे में था और उसने पुलिस टीम पर हमला बोल दिया। आरक्षक अनिल और कोटवार को चोट आई है। घटना की जानकारी सुबह प्राप्त होते ही जिला प्रशासन में हड़कम्प मच गया। पुलिस अधीक्षक अतुलसिंह और डीआईजी मौके पर पहुंचे।

 पुलिस ने घटना को अंजाम देने वाले आठ आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों में 3 महिलाएं भी शामिल हैं। गिरफ्तार आरोपियो में फरार वारंटी जौहर सिंह ककोडिया के अलावा जीवन सिंह ककोडिया, जौहरवती, धर्मेंद्र, राघवेंद्र, शीला बाई, अंतोषी, सुमरवती बाई, ललित धुर्वे, विपिन उइके और राजेश यादव शामिल हैं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में शरीर पर लाठी-डंडों के निशान पाए गए हैं।


पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने उठाए सवाल

पुलिस कर्मी पर हुए हमले पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सुरेश पचौरी ने सवाल उठाए है। उन्होंने कहा है कि प्रदेश में पहले महिलाएं,  बच्चियां सुरक्षित नही थी अब पुलिस भी सुरक्षित नही है। कानून व्यवस्था पूरी तरह से चौपट हो चुकी है।