ब्लैक-बोर्ड पर उत्तर लिखकर करवा रही थी नकल, 5 शिक्षिकाएं निलंबित

छिंदवाड़ा

मध्यप्रदेश के छिंदवाड़े जिले में शिक्षकों द्वारा खुलेआम नकल कराने का मामला सामने आया है।इस मामले में कार्रवाई करते हुए पांच शिक्षकों को निलंबित किया गया है। घटना कुकड़ा जगत स्कूल की है। इसके बाद पेपर निरस्त कर दोबारा परीक्षा कराई गई।हैरत की बात तो ये है कि कुकड़ा जगत स्कूल जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय से महज दो किमी की दूरी पर है।बताया जा रहा है कि इस स्कूल में प्राइवेट छात्रों का एग्जाम सेंटर बना था, जहां कोचिंग सेंटर संचालक की मिलीभगत से नकल को अंजाम दिया गया।

बता दे कि ये कोई पहला मामला नही है । इसके पहले उमरानाला में दसवीं कक्षा के अंग्रेजी के पेपर में भी सार्वजनिक तौर पर नकल कराने का मामला सामने आय़ा था।इस मामले में खुद अभिभावकों ने फोन करके शिकायत दर्ज की खिड़की-दरवाजे बंद करके यहां खुलेआम नकल कराई जा रही है।हालांकि जब तक सरकारी अमला और मी़डिया पहुंची थी तब तक पेपर खत्म हो चुका था। । 

जानकारी के अनुसार, कुकड़ा जगत स्कूल में कक्षा आठवीं की वार्षिक परीक्षा चल रही है।शुक्रवार को गणित पेपर होना था। जहां पांच शिक्षक प्रश्न- पत्र ब्लैक बोर्ड पर हल करके नकल करवा रहे थे।जांच के लिए अचानक बीईओ आईएम भीमनवार की टीम की जब यहां पहुंची तो नजारा देख चौंक पड़ी। इस पर डीईओ के निर्देश पर तुरंत कार्रवाई करते हुए केंद्राध्यक्ष ने पांचों को निलंबित कर दिया। बीईओ छिंदवाड़ा आईएम भीमनवार वरिष्ठ अध्यापक सुनील गौहर के नेतृत्व में ये कार्रवाई की गई।इसके बाद गणित का पेपर पहले निरस्त हो गया था, जिसके बाद दोबारा पेपर कराया गया।

इनको किया गया निलंबित

-सहायक केंद्राध्यक्ष ललिता तिवारी

-ड्यूटी में तैनात मीना कुनवाले

-प्रेमलता जंघेला

-शिक्षिका प्रीति कपूर 

-एक अन्य