लोकायुक्त के जाल में फंसा पटवारी संघ का जिलाध्यक्ष, रिश्वत लेते रंगेहाथों धराया

दमोह|  रिश्वतखोर कर्मचारियों पर लोकायुक्त पुलिस ने शिकंजा कस रखा है, रोजाना रिश्वत लेते कर्मचारी रंगेहाथों ट्रैप हो रहे हैं| इसी क्रम में आज लोकायुक्त पुलिस ने पटवारी संघ के जिला अध्यक्ष को 7 हजार की रिश्वत लेते रंगेहाथों दबोचा है| आरोपी पटवारी नक्शा पास कराने के एवज में रिश्वत की मांग कर रहा था और पहले भी रुपए ले चुका था, बाकी रुपए लेते हुए रंगेहाथों पकड़ा गया| रिश्वत लेते पकड़ा गया पटवारी दमोह पटवारी संघ का जिलाध्यक्ष बताया जा रहा है। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार हिंडोरिया में बुधवार की दोपहर लोकायुक्त पुलिस ने पटवारी संघ के जिलाध्यक्ष को 6 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा है। बांदकपुर में पदस्थ पटवारी खिलान सिंह द्वारा हिंडोरिया निवासी भरत चौरसिया से नक्शा पास कराने के एवज में 12000 रु की मांग की गई थी। जिसमें से 5000 रु भरत से पहले लिए ही जा चुके थे। बुधवार दोपहर भरत से 7000 रुपये की रिश्वत लेते हुए लोकायुक्त सागर की टीम ने पटवारी खिलान सिंह को रंगे हाथों धर दबोचा।

बताया गया कि पटवारी द्वारा नामांतरण नहीं किया जा रहा था और भारत को पिछले डेढ़ साल से चक्कर लगवा रहा था। थक हारकर पटवारी को सबक सिखाने के लिए भरत ने लोकायुक्त सागर टीम को शिकायत की। शिकायत के बाद पटवारी जिला संघ के अध्यक्ष खिलान सिंह को योजनाबद्ध तरीके से रंगेहाथों गिरफ्तार किया गया| इस कार्रवाई में डीएसपी राजेश खेड़े, प्रधान आरक्षक प्रधान आरक्षक महेश हजारी, आरक्षक सुरेंद्र सिंह, संजीव अग्निहोत्री, सोनू तिवारी, सहायक ग्रेड टीम मनोज कोरकू शामिल रहे।