सरकारी दफ्तर में डांस करते कर्मचारियों पर गिरी थी गाज, अब महिला अधिकारी का वीडियो वायरल

देवास| सरकारी दफ्तर में फिल्मी गानों पर ठुमके लगाते 16 अप्रैल को कई वीडियो वायरल होने से हड़कंप मच गया था, मामला मीडिया में आने के बाद तत्कालीन कलेक्टर ने 17 अप्रैल को ही 2 कर्मचारियों को सस्पेंड और आउटसोर्सिंग पर रखे गए तीन कर्मचारियों को बर्खास्त किया था | अब उसी समय का एक और वीडियो वायरल हुआ है, वीडियो में खुद जिला महिला एवं बाल विकास अधिकारी सुनीता यादव भी डांस करते दिखाई दे रही हैं। उस समय सुनीता यादव ने जिला प्रशासन और मीडिया में डांस के समय खुद की अनुपस्थिति की बात कहकर पल्ला झाड़ लिया था|  पिछले दिनों वायरल हुए वीडियो में सिर्फ महिला और पुरुष कर्मचारी डांस करते दिखाई दे रहे थे। लेकिन आज खुद अधिकारी के डांस करते हुए वीडियो वायरल होने के बाद एक बार फिर मामले ने तूल पकड़ लिया है| महिला अधिकारी ने जिला प्रशासन को अपनी सफाई में खुद की गुमराह करते हुए झूठ कहा था, लेकिन अब जब वीडियो वायरल हुआ तो देखना होगा प्रशासन क्या कार्रवाई करता है|  

 यह विडियो देवास के चामुंडा कॉम्पलेक्स स्थित जिला महिला एवं बाल विकास कार्यालय का है। जहां 16 अप्रैल को वीडियो वायरल हुआ था जिसमें डांस करने वाले महिला-पुरुष कर्मचारियों में  17 अप्रैल को तत्कालील कलेक्टर आशीष सिंह ने 2 को निलंबित कर दिया था जबकि आउटसोर्सिंग पर रखे गए 3 कर्मचारियों को बर्खास्त कर दिया गया था। आज वायरल हुए वीडियो में कार्यालय की मुखिया/ जिला महिला एवं बाल विकास अधिकारी सुनीता यादव भी डांस करते दिखाई दे रही है| जिसमे कर्मचारी अपनी मेडम का फिल्मी स्टाइल में हाथ खींचता हुआ नजर आ रहा|  सरकारी दफ्तर का यह नजारा किसी होटल में आयोजित की गई पार्टी जैसा लग रहा है| 

 इस एक और वायरल वीडियो की जानकारी मीडियाकर्मियों को उस समय लगी जब नवागत कलेक्टर डॉक्टर श्रीकांत पांडेय पदभार ग्रहण करने के बाद मीडिया से चर्चा कर रहे थे। इस दौरान जानकारी लगते ही खुद कलेक्टर भी हैरान रह गए और उन्होंने पॉइंट नोट करते हुए इस मामले को दिखवाने की बात कही। मीडिया ने सुनीता यादव से सम्पर्क करने की भी कोशिश की लेकिन उनके कार्यालय से बताया गया कि मेडम कुछ दिनों की छुट्टी पर है।


"To get the latest news update download tha app"