Breaking News
स्वास्थ्य विभाग में मंत्री का आदेश रद्दी की टोकरी में | मोदी सरकार के 4 साल : बैलगाड़ी, ठेला अैर साइकिल पर सवार होकर कांग्रेस ने मनाया 'विश्वासघात दिवस' | मैं सेवा की ऐसी लकीर खींचूंगा, जिसे मेरे मरने के बाद भी मिटाया न जा सकेगा : शिवराज | पुलिसवाले के दोस्त ने युवतियों से की छेड़छाड़, चप्पलों से हुई पिटाई, खाकी पर उठे सवाल | बैतूल में आज एक और किसान ने की आत्महत्या, सड़क पर शव रख ग्रामीणों ने किया चक्काजाम | MP : मोदी सरकार के चार साल, कांग्रेस मना रही 'विश्वासघात' दिवस | विश्वासघात दिवस : कांग्रेस नेता ने गिनाई मोदी सरकार की 5 नाकामियां | VIDEO : कंटेनर से जा भिड़ा पायलेटिंग वाहन, बाल-बाल बचे स्वास्थ्य मंत्री, 3 पुलिसकर्मी घायल | VIDEO : विधायक ने 'हमसफ़र' को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना, पहले दिन यात्री दिखें उत्साहित | 6 जून से पहले जिलों में जाकर किसानों को मनाएंगे मुख्यमंत्री  |

मेडिकल टेस्ट में नव आरक्षकों के सीने पर लिख दिया एससी-एसटी

धार| मध्य प्रदेश के धार जिले में आरक्षक के चयन के लिए किये जा रहे मेडिकल टेस्ट के दौरान अभ्यर्थियों के सीने पर जातियों का उल्लेख किया जा रहा है| जिला अस्पताल में बुधवार को अभ्यर्थियों का मेडिकल परीक्षण शुरू हुआ है| जहां अभ्यर्थियों के सीने पर उनकी जाति लिखी जा रही है| मामला मीडिया में आने के बाद हड़कंप मच गया है| 

दरअसल, आरक्षक के चयन के लिए जिला अस्पताल में मेडिकल टेस्ट किया जा रहा है| बुधवार से अस्पताल में इसकी प्रक्रिया शुरू हुई है| लेकिन यहां ऊंचाई नापने में कोई गड़बड़ी ना हो इसलिए अजीबो गरीब तरीका अपनाया जा रहा है|  इस दौरान भर्ती परीक्षा में मेडिकल परीक्षण के दौरान अलग-अलग वर्गों के अभ्यर्थियों की पहचान के लिए उनके सीने पर ही उनकी जातियों को लिख दिया गया| जब इस मामले की भनक मीडिया तक पहुंची तो हड़कंप मच गया है|  मामला प्रकाश में आने के बाद अस्पताल के जिम्मेदार लोग अब सफाई दे रहे हैं| सामान्य और अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए 168 सेमी और एसटी-एससी के लिए 165 सेमी ऊंचाई तय की गई है| तर्क दिया जा रहा है कि ऊंचाई नापने में गड़बड़ी से बचने के लिए ऐसा किया जा रहा है| जिला अस्पताल के सिविल सर्जन ने कहा है इस मामले की जांच करवाई जायेगी|  

मामले के मीडिया में आने के बाद जिले के एसपी बीरेंद्र सिंह ने भी सफाई दी है|  उन्होंने कहा कि पुलिस की ओर से जातियां लिखने का निर्देश नहीं है| इसके पीछे गलत भावना नहीं है|  भर्ती में सहूलियत के लिए ऐसा लिखा गया होगा| 

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...