Breaking News
स्वास्थ्य विभाग में मंत्री का आदेश रद्दी की टोकरी में | मोदी सरकार के 4 साल : बैलगाड़ी, ठेला अैर साइकिल पर सवार होकर कांग्रेस ने मनाया 'विश्वासघात दिवस' | मैं सेवा की ऐसी लकीर खींचूंगा, जिसे मेरे मरने के बाद भी मिटाया न जा सकेगा : शिवराज | पुलिसवाले के दोस्त ने युवतियों से की छेड़छाड़, चप्पलों से हुई पिटाई, खाकी पर उठे सवाल | बैतूल में आज एक और किसान ने की आत्महत्या, सड़क पर शव रख ग्रामीणों ने किया चक्काजाम | MP : मोदी सरकार के चार साल, कांग्रेस मना रही 'विश्वासघात' दिवस | विश्वासघात दिवस : कांग्रेस नेता ने गिनाई मोदी सरकार की 5 नाकामियां | VIDEO : कंटेनर से जा भिड़ा पायलेटिंग वाहन, बाल-बाल बचे स्वास्थ्य मंत्री, 3 पुलिसकर्मी घायल | VIDEO : विधायक ने 'हमसफ़र' को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना, पहले दिन यात्री दिखें उत्साहित | 6 जून से पहले जिलों में जाकर किसानों को मनाएंगे मुख्यमंत्री  |

तांत्रिक ने कहा..करोड़ों रुपयों की बारिश होगी, लालच में पेट्रोल पंप भी बेच दिया, हाथ लगी खाली पेटी

धार।

21वीं सदी में हमने चाहे जितनी ही तरक्की क्यों न कर ली हो लेकिन अंधविश्वास का दीमक अभी भी कहीं-न-कहीं समाज को खोखला बना रहा है। अंधविश्वास का ऐसा ही एक मामला मध्यप्रदेश के धार से सामने आया है। जहां एक बाबा ने पेट्रोल पंप संचालक को तीन सौ करोड़ का लालच देकर 1 करोड़ 75 लाख रुपए ठग लिए। सच्चाई सामने आने के बाद संचालक ने पुलिस में शिकायत दर्ज की । युवक की शिकायत पर एसपी ने जांच के लिए टीम का गठन किया है और जांच शुरु कर दी ।जांच में एक होटल संचालक अशोक का भी नाम सामने आया है। पुलिस ने उसे पकड़कर पूछताछ शुरु कर दी है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, सांघी कॉलोनी (पुणे) निवासी राकेश धर्मसिंह राणा का खुद का पेट्रोल पंप है। मार्च 2017 उसके दोस्त राजू ने उसे बताया था कि धार के बदनावर में एक गुरुजी है जो पैसे लेकर रुपयों की बारिश करते है। राकेश के मन में रुपयों का लालच आ गया और उसने राजू को गुरुजी से मिलवाने की बात कही। राजू ने राकेश की मुलाकात  सिरपुर (महाराष्ट्र बॉर्डर) पर विजय गुरु, अशोकनाथ उर्फ शौकीन व पिंटू गुप्ता से करवाई। गुरुजी ने उसे इस काम के लिए  5 लाख 50 हजार  का इंतजाम करने को कहा। राकेश पैसों का इंतजाम कर गुरु के पास पहुंचा। इसके बाद गुरु उसे  उज्जैन के आफताब के पास ले गया।वहां उसने पूजा के लिए जड़ी-बूटियों से बनी दवाई खरीदी और राकेश को रूपाखेड़ा व सुल्तान के जंगलों में ले गया। राकेश को फूलों की माला पहना दी और पूजा की चौकी के सामने बैठा दिया। इसके बाद गुरु ने वहां तांत्रिक क्रियाएं करना शुरु कर दी। डरावनी आवाजों और तांत्रिक क्रियाओं को देख राकेश डर गया और वहां से भाग निकला। गुरु ने उसे बताया कि आत्मा नाराज हो गई है और पैसों का इंतजाम करना होगा इसके बाद ही धन की वर्षा होगी। राकेश ने  पेट्रोल पंप और पत्नी के गहने गिरवी रखकर करीब पौने दो करोड़ एकट्ठा कर गुरु को दे गिए। इसके बाद करीब दो महिने बाद गुरु ने राकेश को एक लोहे की पेटी दी और बोला कुछ दिनों बाद इसे खोल लेना नोटों की बारिश हो जाएगी। 

राकेश को जब शक हुआ तो उसने जैसे ही पेटी खोली उसमें से कुछ नही निकला। इसका कारण पूछने वह बाबा के पास पहुंचा तो उन्होंने उससे कहा कि आत्मा नाराज हो गई है इसलिए पैसों को पानी में बदल दिया। अपने आप को ठगा महसूस करने के बाद राकेश शिकायत लेकर स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) के पास पहुंचा और सारी कहानी बताई। एसपी ने जांच के लिए टीम का गठन किया है। ठगी में बदनावर के होटल संचालक अशोक का नाम भी सामने आया है। टीआई एसएल बौरासी ने शनिवार को दबिश दी और अशोक को पकड़ लिया। उससे पूछताछ चल रही है।

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...