डूब प्रभावितों के बीच पहुंचकर कलेक्टर ने किया सीधा संवाद..सुनी समस्याएं

धार। सरकार और जनता के बीच प्रशासन कड़ी का काम करता है,  आम जन की समस्या के लिए जब कोई अधिकारी जनता के बीच जाकर उनकी समस्या को सुने तो समस्या का हल आसान हो जाता है| ऐसा ही काम कर दिखाने के पहचाने जाने वाले वरिष्ठ आईएएस अधिकारी और धार जिले के कलेक्टर दीपक सिंह इन दिनों डूब क्षेत्र के लोगों की समस्याओं को सुलझाने में जुटे हुए हैं| कलेक्टर डूब क्षेत्र के लोगो के बीच पहुंचे और कहा आपके बीच समस्या सुनने आया हूँ,  यदि डेम इस बार भर गया, तो डूब में रह रहे लोगों को तकलीफ न हो इसलिए आपकी हर समस्या को सुनने आया हूँ| 

कलेक्टर दीपक सिंह निसरपुर जनपद पंचायत परिसर पहुंचे। जहां उन्होंने ग्रामीणों से सीधा संवाद किया और उनकी समस्याएं सुनी| डूब क्षेत्र के ग्राम चिखल्दा के लोगों को बुलवाया गया, जिनमे से एक व्यक्ति ने अपनी समस्या कलेक्टर के सामने रखी और कहा हमारे ग्राम में 55 दुकानें डूब में हैं। हम अपना व्यापार करने कहां जाएंगे। हमें गणपुर चौकड़ी पर व्यापार के लिए दुकानें दी जाएं। इस पर कलेक्टर ने मामले को शीघ्र ही सुलझाने की बात कही। कलेक्टर ने डूब के ग्राम कड़माल, खपरखेड़ा, बजरीखेड़ा, कोठड़ा, कोटेश्वर, कारोंदिया, मोलखड़ आदि ग्रामों के लोगों की क्रमवार समस्या सुनी। कई लोगों को मुआवजा नहीं मिलने की शिकायत मिली इस पर अधिकारियों को मौके पर ही निर्देश दिए गए, वहीं अलग अलग समस्याओं को कलेक्टर ने सूची बनाकर ली और शीग्र ही निराकरण का आश्वासन दिया|  सभी की बात सुनने के बाद कलेक्टर ने कहा कि आपकी सभी समस्याओं को लेकर अधिकारियों से चर्चा करेंगे। उसका नियमानुसार हल किया जाएगा।