कलेक्टर के आदेश से हड़कंप, एसडीओ, तहसीलदार के यहा लगेगी आबकारी अफसरों की हाजिरी

धार। प्रदेश में पहली बार ऐसा हो रहा है जब आबकारी अफसरों को अपनी उपस्थिति एसडीओ, तहसीलदार के यहाँ जाकर लगानी होगी| पिछले दिनों लोकायुक्त छापे में आबकारी विभाग के बड़े धनकुबेर अफसर के खिलाफ कार्रवाई के बाद धार कलेक्टर ने यह अनोखा आदेश जारी किया हैं| अब आबकारी कार्यालय में पदस्थ डीईओ, एडीईओ सहित सभी आबकारी अधिकारियों को दफ्तर पहुँचने से पहले एसडीओ या तहसीलदार के कार्यालय में हाजिरी लगाने के आदेश जारी किये हैं| यह आदेश चर्चा का विषय बन गया है| 

बताया जा रहा है कि आबकारी कार्यालय का सुचारू रूप से संचालन नहीं होने की स्तिथि में यह कदम उठाया गया है| डीईओ पराक्रम सिंह चंद्रावत इंदौर से अपडाउन करते है कई शिकायतें मिली है कि चंद्रावत धार में बहुत कम रहते है जिसका विपरीत असर विभागीय कार्यों पर होने के साथ ठेकेदारों को भी कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है ।  चंद्रावत के यहा लोकायुक्त छापे के बाद स्थिति और भी ख़राब हो गई है । ज़िला आबकारी कार्यालय में अनियंत्रण की स्थिति में कलेक्टर सिंह को एसा आदेश जारी करना पड़ा है । अब डीईओ ,एंडीईओ को भी अपने से छोटे पद के अधिकारी के पास उपस्थिति दर्ज करवा कर हाजरी भरवाना है । एसडीओ के यहा हाजिरी और एसडीओ की अनुपस्थिति में तहसीलदार के यहा उपस्थिति लगाने और वेतन पत्रक प्रस्तुत करने का फरमान जारी किया है|  कलेक्टर सिंह के इस आदेश को लेकर हड़कंप मचा हुआ है और एसी स्थिति बनाने के लिए चंद्रावत को कोसा भी जा रहा है | अधिकारियों में इसका विरोध भी बढ़ रहा है|