Breaking News
पिपलिया मंडी बैंक डकैती मामले में SIMI आतंकी अबू फैजल सहित अन्य साथियों को उम्रकैद की सजा | भाजपा विधायक के बेटों पर उत्तर प्रदेश में हुई FIR दर्ज | शिवराज का तीखा हमला "दिग्विजय की हो गई मति भ्रष्ट, जब देखो हिंदू आतंकवाद" | विकल्प मिलते ही खाली करुंगी बंगला : उमा भारती | International Yoga Day : सजायाफ्ता कैदियों ने भी किया योग, जमकर लगाए ठहाके | मोदी के कार्यक्रम में शामिल होने गुलाब का फूल देकर लोगों को निमंत्रण दे रही भाजपा | नेता प्रतिपक्ष ने पीएम को लिखा पत्र, ई-टेंडरिंग घोटाले की हो निष्पक्ष जांच | मलेशिया में फंसा एमपी का युवक, परिवार ने विदेश मंत्री से लगाई मदद की गुहार | पासपोर्ट बनवाने पहुंचे दंपती, अधिकारी ने दी धर्म बदलने की नसीहत, ट्रांसफर | सुषमा के संसदीय क्षेत्र में किसान पुत्र ने दी आत्महत्या की धमकी...1 घंटे में मिला फसल का पैसा |

कलेक्टर पहुंचे कोटेश्वर धाम, खुले आसमान के नीचे बिताई रात, सुनी ग्रामीणों की मन की बात

धार| जनता के बीच जाकर उनकी समस्या को सुनने और समाधान निकालने वाली कलेक्टर की कार्यप्रणाली इन दिनों चर्चा में है| बुरहानपुर कलेक्टर रहते हुए आईएएस दीपक सिंह ने कई उत्कृष्ट कार्य किये जिनके कारण लोग आज भी उन्हें याद करते हैं| वहीं धार कलेक्टर का पदभार संभालते ही दीपक सिंह दफ्तर में कम मैदान में ज्यादा दिखाई देते हैं| पिछले दिनों उन्होंने डूब क्षेत्र के गाँव में रात गुजार कर लोगो की समस्या जानी और क्षेत्र खाली करने के लिए भी मनाया| अब एक बार फिर आईएएस एक सामान्य व्यक्ति की तरह कुक्षी तहसील के ग्राम कोटेश्वर धाम पहुंचे और महंत कमल दास जी के दर्शन पूजा की| इसके बाद आश्रम में ही खुले आसमान के नीचे रात्रि विश्राम किया| 

सरल,सहज व्यक्तित्व वाले कलेक्टर दीपक सिंह ने इस दौरान आम नकरीकों से मुलाकात कर चर्चा की और डूब क्षेत्र संबंधित समस्याएं जानी एवं उनके निराकरण के लिए ग्रामीणों को आश्वस्त किया कोटेश्वर धाम आश्रम गौशाला का अवलोकन किया एवं वहां साफ-सफाई देखकर गौशाला प्रबंधकों की प्रशंसा की | डूब प्रभावित क्षेत्रों में ग्रामीणों से चर्चा कर धरातल समस्या को जाना और आगामी वर्षाकाल के लिए किसानों द्वारा कृषि के लिए की जाने वाली तैयारियों का अवलोकन भी किया| इसके अलावा कुक्षी के आसपास गांव का दौरा करते हुए मां नर्मदा के दर्शन भी किए|

प्रशासनिक दृष्टि से बहुत सारे कार्य नियमानुसार किए जाते हैं, लेकिन एक अधिकारी जब नियमों की बाधा तोड़कर एक आम आदमी बनकर लोगों के बीच पहुंचकर हर हाल में उनकी समस्या का समाधान करता है, तब ही सुशासन की परिभाषा सिद्ध होती है| ऐसा ही कुछ इन दिनों धार कलेक्टर करते दिखाई दे रहे हैं|डूब क्षेत्र की समस्याओं का प्रशासनिक स्तर पर निराकरण करने का हर संभव प्रयास कलेक्टर द्वारा किया जा रह है|  

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...