Breaking News
अध्यापकों के तबादलों से रोक हटी, आदेश जारी | राहुल गांधी की सभा की अनुमति को लेकर बैकफुट पर प्रशासन, बदली शर्ते | किसान और जनता के घरो में डाका डाल रही सरकार : अजय सिंह | शराब दुकानों को लेकर आमने-सामने हुए दो विभाग | सहकारी बैंक का जीएम 50 हजार की रिश्वत लेते रंगेहाथों धराया | कम नहीं होगा पेट्रोल-डीजल पर वैट : वित्तमंत्री मलैया | VIDEO : मप्र कोटवार संघ की सरकार को चेतावनी- मांगे पूरी नहीं हुई तो कांग्रेस को देंगें समर्थन | VIDEO : बाप को जेल ले जा रही थी पुलिस, बेटियों ने जीप पर चढ़कर किया जमकर हंगामा | एमपी टूरिज्म के रिसॉर्ट में तेंदुए का टेरर..देखिये वीडियो | तख्तियों पर 'देखों ये मोदी का खेल, 82 रु हो गया तेल' स्लोगन लिख कांग्रेस ने जताया विरोध |

लोकायुक्त के जाल में फंसा कृषि विभाग का अफसर, 25 हजार की रिश्वत लेते धराया

धार

मध्य प्रदेश के धार जिले में लोकायुक्त ने कृषि विभाग के उप संचालक को 25 हजार रुपए रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार किया है। इस पूरी कार्रवाई को इंदौर लोकायुक्त पुलिस द्वारा अंजाम दिया गया है।बताया जा रहा है कि उप संचालक ने फर्टिलाइजर कंपनी के लाइसेंस रिव्यू करने की एवज में रिश्वत की मांग की थी। पुलिस ने भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर लिया है।फिलहाल संचालक को मुचलके पर रिहा किया गया है।

मिलीं जानकारी के अनुसार, कृषि विभाग के उप संचालक पी. एल. साहू ने फरियादी से एक फर्टिलाइजर कंपनी के विनिर्माण अनुज्ञप्ति (Manufacturing License) के नवीनीकरण की अनुशंसा करने के लिए 1 लाख रुपये मांगे थे, जिसकी शिकायत इंदौर लोकायुक्त पुलिस को की गई थी। लोकायुक्त की एक टीम ने योजना बनाकर फरियादी को उप-संचालक के पास पहले किश्त के 25  हजार रुपये लेकर भेजा । जैसे ही फरियादी ने उपसंचालक को पैसे दिए वैसे ही लोकायुक्त टीम ने उसे रंगेहाथों पकड़ लिया। टीम को विभाग में देखते हुए अधिकारियों मे हड़कंप मच गया । पुलिस साहू के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत कार्रवाई की है।हालांकि, कार्रवाई पूरी होने के बाद पी.एल. साहू को निजी मुचलके पर रिहा कर दिया गया है।


  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...