Breaking News
प्रशासन बता रहा 'डेंगू' छुआछूत की बीमारी | किसकी होगी पूरी मुराद, आज महाकाल के दर पर सिंधिया-शिवराज | सड़क पर सियासत : कमलनाथ बोले- बुधनी से अच्छी छिंदवाड़ा की सड़कें, शिवराज जी एक बार जरुर आए | सुल्तानगढ़ वॉटरफॉल हादसा : मौत से संघर्ष के बाद भी कैसे हार गई 9 जिंदगियां, देखें वीडियो | शर्मसार : सागर में नाबालिग से गैंगरेप, बीते दिनों ही मिला था सबसे सुरक्षित शहर का तमगा | कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने लिया विस चुनाव में भाजपा को उखाड़ फेंकने का संकल्प | केंद्रीय मंत्री की बहन को एसिड अटैक और मारने की धमकी | खाना खाने के बाद बिगड़ी तबियत, दो सगी बहनों की मौत, मां की हालत गंभीर | पूर्व राष्ट्रपति शंकर दयाल शर्मा की जन्मशताब्दी मनाएगी सरकार : शिवराज | अस्पताल के बच्चा वार्ड में लगी आग, मची अफरा-तफरी, 35 बच्चे थे भर्ती |

पुलिस ने बरामद किए 44 जिंदा बम, पशुओं के शिकार के लिए किए जाते थे इस्तेमाल

डिंडौरी।

मध्य प्रदेश के डिंडौरी में पुलिस ने एक बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है। पुलिस ने 44 जिंदा बमों के दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने सभी बमों को अपने कब्जे में लेकर डिफ्यूज कर दिया है। घटना सचौली धनगांव के शहपुरा थाना की बताई जा रही है। बताया जा रहा है कि इन बमों का इस्तेमाल आरोपी पशुओं के शिकार के लिए किया करते थे।पुलिस ने मामले की जांच शुरु कर दी।

मिली जानकारी के अनुसार, पुलिस को सूचना मिली थी कि सचौली धनगांव में कुछ लोग जिंदा बम के अपने घर में रखे हुए है। इस पर पुलिस की एक विशेष टीम का गठन किया गया और दबिश दी। जब पुलिस ने घर की तलाश ली तो 44 जिंदा बम मिले। पुलिस ने इस मामले में दो लोगों को भी गिरफ्तार किया है। आरोपियों ने पुलिस को बताया कि इन बमों का इस्तेमाल वन्यप्राणियों के शिकार के लिए किया जाता है। पुलिस ने सभी बमों को डिफ्यूज कर दिया है। पुलिस ने इस मामले सूचना वन विभाग को भी दी है, ताकी पता लगाया जा सके कि अबतक आरोपियों ने किन-किन वन्यप्राणियों का शिकार किया है।डिंडौरी जिले में इतने बड़े पैमाने पर बम पकड़े जाने का यह पहला मामला है। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है। 

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...