शोमैन राजकपूर की पत्नी कृष्णा का निधन, शोक में डूबा बॉलीवुड, MP से था खास कनेक्शन

मुंबई

बॉलीवुड के लेजेंड्री एक्टर राजकपूर की पत्नी कृष्णा कपूर का  87 साल की उम्र में निधन हो गया है।उन्हें कार्डिएक अरेस्ट था। वह काफी समय से बीमार चल रही थीं, उन्हें हॉस्पिटल में भर्ती करवाया गया था।   उनके निधन से पूरे बॉलीवुड जगत में शोक की लहर दौड़ गई है। इस बात की जानकारी बेटे रणधीर कपूर ने दी है।  उन्होंन मीडिया से चर्चा के दौरान कहा कि  मेरी मां सुबह 5 बजे कार्डिएक अरेस्ट की वजह से चल बसीं। वो बूढी़ हो गईं थी ये एक अलग वजह है। हम उनके जाने से बहुत दुखी और निराश हैं। उनकी मौत से हम गहरे सदमे में हैं। उनका अंतिम संस्कार चेंबूर शवदाह गृह में किया जाएगा। इस दुखद खबर के सामने आते ही कपूर परिवार और बॉलीवुड में शोक की लहर है। मालूम हो कि बॉलीवुड की पहली महिला सुपर स्टार श्रीदेवी की मौत की वजह भी कार्डिएक अरेस्ट ही थी। 

बॉलीवुड के शोमैन राजकपूर और उनकी पत्नी कृष्णा राजकपूर ने 1946 में शादी रचाई थी। दोनों के पांच बच्चे हुए जिनमें तीन बेटा और दो बेटियां हैं। उनके तीन बेटे रणधीर कपूर, ऋषि कपूर, राजीव कपूर और दो बेटियां रितु और रीमा हैं।कृष्‍णा राज कपूर के निधन की सूचना मिलते ही बॉलीवुड की जानी-मानी हस्‍तियों का ऋषि कपूर के घर आने का सिलसिला शुरू हो गया है। सितारे सोशल मीडिया के जरिए अपनी संवेदना व्यक्त कर रहे हैं।

 वही पोती रिद्धिमा कपूर ने अपने इंस्टाग्राम पर एक तस्वीर पोस्ट की है, जिसमें वह अपनी दादी के साथ नजर आ रहीं। इस तस्वीर के साथ उन्होंने लिखा है, 'मैं आपसे प्यार करती हूं, हमेशा करती रहूंगी- ईश्वर आपकी आत्मा को शांति दे। 

मध्यप्रदेश से था खास कनेक्शन

कृष्णा कपूर का मध्यप्रदेश की धरती से खास लगाव रहा। बात उस दौर की है। दरअसल रीवा के कलाप्रेमियों को रंगमच से रूबरू कराने पृथ्वीराज कपूर की नाटक कंपनी यहां पहुंची थी। उनके साथ दोनों बेटे राजकपूर और शम्मी कपूर भी थे। शम्मी उस समय 15 साल के और राजकपूर 20 साल के थे। पृथ्वीराज कपूर की यह रंगमंचीय यात्रा, कपूर खानदान से रीवा का रिश्ता प्रगाढ़ कर गई, उस वक्त करतार सिंह रीवा के आईजी थे। पृथ्वीराज कपूर उनके अतिथि बन गए। मेहमाननवाजी से शुरू हुआ पहचान का सिलसिला आगे चलकर रिश्ते में बदल गया। राजकपूर की बारात भी वहीं गई थी।शादी उसी सरकारी बंगले में हुई थी जो आजकल पुलिस अधीक्षक का बंगला है। बाराती रॉयल मेंशन (स्वागत भवन ) में रूके थे। बहुत कम लोगों को जानकारी है कि राजकपूर और कृष्णा कपूर ने अपनी बेटी का नाम रीवा से प्रभावित होकर 'रीमा' रखा था।  माना जाता है कि इस शहर की स्मृतियों को संजोए रखने के लिए बेटी को यह नाम दिया गया था।





"To get the latest news update download tha app"