लाल साड़ी में श्रीदेवी की अंतिम यात्रा, हर आँख हुई नम, अंतिम दर्शन के लिए उमड़ा जनसैलाब

मुंबई

लाखों दिलों पर राज करने वाले गुजरे जमाने की मशहूर अदाकारा श्रीदेवी आज दुनिया से रुखसत ले रही है।आज उन्हें पूरे राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी जा रही है। लाखों लोगों का हुजुम उमड़ा है। हर कोई अपनी पसंदीदा अभिनेत्री की एक अंतिम झलक पाने के लिए बेताब हो रहा है।जिस ट्रक में श्रीदेवी को रखा गया है, उसे सफेद फूलों से सजाया गया है। उसमें श्रीदेवी का एक बड़ा पोट्रेट भी रखा गया है।श्रीदेवी को सफेद रंग बेहद पसंद था। उनकी ख्वाहिश थी कि उनकी आखिरी विदाई में ज्यादा से ज्यादा सफेद रंग का इस्तेमाल किया जाए। इसी बात को ध्यान रखते हुए उनकी शव यात्रा में शामिल रथ को मोगरे के फूलों से सजाया गया। 

बस थोड़ी देर बाद विले पार्ले समाज सेवा श्मसान घाट में उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।इस भावुक मौके पर तमाम बॉलीवुड जगत की हस्तियां मौजूद है। सत्तर के दशक से लेकर आज तक की युवा पीढ़ी श्री को श्रंद्धाजलि देने पहुंची है।अंतिम यात्रा के लिए मुंबई प्रशासन और पुलिस ने तगड़े इंतजाम किए हैं।देशभर से श्रीदेवी के प्रशंसक जुटे हैं- राजस्थान, गुजरात, यूपी, मध्य प्रदेश जैसे राज्यों से बड़े पैमाने पर पहुंचे हैं। प्रशंसक सफेद फूल लेकर आए हैं। श्रीदेवी के निधन ने न सिर्फ मायानगरी बल्कि पूरे देश को गमगीन कर दिया। अपनी पसंदीदा कालाकार के पार्थिक शव के अंतिम दर्शन के लिए आज (बुधवार) सुबह से उनके फैन्स और बॉलीवुड सितारों का आना जाना रहा। सभी की आंखे नम थी और श्रीदेवी के दुनिया छोड़ जाने का गम। उन्होंने बीते पांच दशक तक बॉलीवुड से लेकर तेलुगू, तमिल और कन्नड़ सिनेमा को अपना योगदान दिया। 50 साल के फिल्मी करियर में अलग-अलग भाषाओं की करीब 300 फिल्में की।

इसके पहले श्रीदेवी का पार्थिव शरीर अंतिम दर्शन के लिए अंधेरी के सेलिब्रेशन स्पोर्ट्स क्लब में रखा गया था।यहां पर रेखा, दीपिका, हेमा, जया सहित बहुत से बॉलीवुड और टीवी सितारे उनका अंतिम दर्शन करने पहुंचे थे। दोपहर साढ़े 12 बजे तक लोगों ने यहां उनके अंतिम दर्शन किए। इसके बाद दोपहर 2 बजे सेलिब्रेशन स्पोर्ट्स क्लब से अंतिम यात्रा निकाली गई है, जो विले पार्ले के पवन हंस क्रीमेटॉरियम तक पहुंची।

बता दें कि  श्रीदेवी की मौत  24 फरवरी  शनिवार रात करीब 11.30 बजे जुमैरा एमिरेट्स टॉवर होटल के रूम नंबर 2201 में हुई थी। श्रीदेवी पति बोनी कपूर और छोटी बेटी खुशी के साथ भांजे मोहित मारवाह की शादी में शामिल होने दुबई गई थीं। फोरेंसिक रिपोर्ट में खुलासा हुआ था कि उनकी मौत कार्डिएक अरेस्ट से नहीं, बल्कि बाथटब में डूबने से हुई थी।दुबई पुलिस और प्रशासन से क्लीन चिट मिलने के बाद दिवंगत अभिनेत्री श्रीदेवी का पार्थिव शरीर देर रात में मुंबई लाया गया। शव पहुंचते ही मायानगरी शोक में डूब गई। हवाई अड्डे से श्रीदेवी के पार्थिव शरीर को सीधे अंधेरी के लोखंडवाला स्थित उनके निवास स्थान पर ले जाया गया। 


  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...