Breaking News
कांग्रेसी विधायक ने मर्यादाएं की तार-तार | विधानसभा चुनाव के लिए 'आप' ने जारी की पांचवी लिस्ट, यह होंगे प्रत्याशी | CM की PC: केरल बाढ पीड़ितों को 10 करोड़ की आर्थिक सहायता, अटल जी को लेकर भी कई ऐलान | भितरघात की चिंता: दावेदारों से भरवाए शपथ पत्र, 'टिकट नहीं मिली तो भी पार्टी हित में काम करूंगा' | राहुल गांधी का ऐलान- केरल बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए 1 महीने की सैलरी देंगे कांग्रेस के सांसद-विधायक | MP : इन दो महिला आईएएस के निशाने पर 'भ्रष्ट-लापरवाह' अधिकारी | MR.बैचलर बनकर हाईप्रोफाइल लड़कियों को निशाना बनाता था लुटेरा दूल्हा, 4 राज्यों में थी तलाश | पुलिस को पीटने वाले थाने से ससम्मान विदा, नशे में धुत लड़कियों ने हाईवे पर मचाया था उत्पात | Asian Games 2018 : आज से होगा एशियन गेम्स का रंगारंग आगाज, इतिहास रचने को तैयार भारत | दो सांसदों की चिट्ठी के बीच अटकी शिप्रा एक्सप्रेस! |

पुलिस ने पकड़ा 'स्पाईडर मैन'

गुना।

शहर के आरोन में चोरी की वारदातों को अंजाम देने वाले ऐसे चोर को पुलिस ने गिरफ्तार किया है, जो किसी मकान के खंबे या दीवारों पर स्पाईडर मैन की तरह चढ़ कर चोरी को अंजाम देता था ।आरोपी परवेज उर्फ नकटा पुत्र नन्हे मियां सिरोंज का रहने वाला है और सिरोज में उसे सब स्पाईडर मैन ही नाम से जानते हैं ।आरोपी खंबे और दीवार से घर में घुसने में माहिर है।इसका खुलासा तब हुआ जब भाजपा नेता संजीव सोनी के यहां हुई ।चोरी की वारदात में सीसीटीवी कैमरे में एक शख्श दीवार पर चढ़ते हुए दिखाई दिया। इस वीडियो को अशोकनगर, आरोन, सिरोंज, भोपाल, लटेरी तथा विदिशा जिले की पुलिस को भेजा गया। सिरोंज पुलिस ने वीडियो देखने के बाद बताया कि हो न हो यह नकटा है, जो दीवार और पाइप आदि पर छिपकली की तरह चिपककर पल-भर में चढ़ जाता है और इस तरह की चोरी करने में माहिर है।इसके बाद पुलिस ने जांच शुरु की और उसे गिरफ्तार कर लिया।

दरअसल पिछले लंबे समय से ही गुना के आरोन कस्बे में चोरी की वारदातें हो रही थी और चोर का पता नहीं चल पा रहा था ।संदेह होने पर पुलिस ने जब परवेज को उठाया तो कुल 18 चोरियों का पर्दाफाश हुआ ।आरोपी के पास से 5 लाख  रू के सोने चांदी के जेवरात और लगभग 3.60 लाख रू नगद बरामद हुए हैं ।आरोपी से चोरी का माल खरीदने वाले दो ज्वेलरो को भी पकड़ा गया है।पिछले तीन माह से आरोन में सिलसिलेवार चोरियों ने लोगों की नींद उड़ा रखी थी। इसके लिए लोगों ने पुलिस के खिलाफ आंदोलन कर कई ज्ञापन भी सौंपे थे। वही कांग्रेस विधायक औऱ दिग्विजय सिंह के बेटे जयवर्धन ने भी आंदोलन की चेतावनी दी थी। वहीं टीआई राकेश गुप्ता को एसपी ने लाइन अटैच तक कर मामलों का पर्दाफाश करने क्राइम ब्रांच को मैदान में उतार दिया था। आमजन और पुलिस को अनुमान था कि 3 से 4 व्यक्तियों की गैंग इन वारदातों को अंजाम दे रही है, लेकिन क्राइम ब्रांच की मुश्किल भी कुछ कम नहीं थी, क्योंकि चोरी की घटनाओं का आरोपित कोई और नहीं, स्पाईडर मैन था। 

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...