अनूप मिश्रा बोले.. 'मामला अजब-गजब है'

ग्वालियर | भाजपा के सांसद और मध्य प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री रह चुके अनूप मिश्रा की पीड़ा एक बार फिर सामने आई है । सोमवार को ग्वालियर में एक कार्यक्रम में मुरैना सांसद अनूप मिश्रा जब बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय से मिले तब उन्होंने अपनी पीड़ा को व्यक्त किया। मध्यप्रदेश में हावी होती हुई नौकरशाही पर तीखा तंज कसते हुए अनूप मिश्रा ने इशारों-इशारों में कई वार किए। 

अनूप बोले "कैलाश जी वह दौर और था जब हम  लोग कुछ भी निर्णय करते थे और उसका पालन होता था ।अब तो निगमायुक्त ही नहीं सुनते। "अनूप ने मध्य प्रदेश पर्यटन विभाग के विज्ञापन एमपी अजब है ,एमपी गजब है की तर्ज पर कहा कि यहां सब अजब-गजब है। यह पहला मौका नहीं जब नौकरशाही के प्रति अनूप मिश्रा की  पीङा सार्वजनिक हुई हो। पहले भी वे मुरैना के कलेक्टर को हटाने को लेकर भोपाल तक दरवाजा खटखटा चुके हैं । इतना ही नहीं, संसद में भाषण देते समय उन्होंने  नरेंद्र मोदी की योजनाओं को ब्यूरोक्रेसी द्वारा क्रियान्वित न किए जाने को लेकर भी तंज कसा था। अब ऐसे में, जब दबे स्वरों में बीजेपी के विधायक और मंत्री भी नौकरशाही की बढ़ती ताकत को लेकर बातें करते नजर आते हैं ,अनूप का यह बयान एक बार फिर उन आरोपों की पुष्टि कर रहा है