दहेज के लिए फौजी दूल्हे ने मचाया उत्पात, चलाई गोलियां, मारपीट में दुल्हन भी घायल

ग्वालियर| दहेज प्रथा समाज के लिए एक अभिशाप बन गया है' यह एक सामाजिक कलंक है, जिसे ख़त्म करने के लिए कानून भी बनाये गए हैं, लेकिन शादियों में किस तरह दहेज़ के लोभी कानून का मखौल उड़ाते हुए अपनी शक्ति का प्रदर्शन करते हैं, बल्कि लड़की के परिवार की इज्जत के साथ जान से भी खिलवाड़ करते हैं| ऐसा ही एक मामला ग्वालियर में सामने आया है, जहां एक फौजी दूल्हे ने दहेज़ की जिद पर हंगामा कर दिया और बारातियों ने हवाई फायरिंग कर दी, वहीं दुल्हन सहित वधु पक्ष के लोगों के साथ मारपीट करने की भी बात सामने आई है| सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने दूल्हे समेत बारातियों को थाने ले आई| 

जानकारी के मुताबिक, ग्वालियर के गोला का मंदिर थाना इलाके के पिंटो पार्क क्षेत्र में स्थित द्वारका गार्डन में शिवहरे परिवार की बेटी शिल्पी की गोरमी के रहने वाले सुमित शिवहरे से शादी थी। दूल्हा सुमित फौजी है और अमृतसर में पदस्थ है। बरात दुल्हन के यहां पहुंची और वरमाला के दौरान दूल्हा और उसका परिवार बुलेट के लिए दो लाख रुपए व कूलर की जगह एसी की मांग करने लगे| जबकि लड़की वालों ने दहेज में 11 लाख रुपए नकदी दूल्हे को दी है| दूल्हे और उसके परिवार वालों ने अपनी मांग पूरी करने के लिए जमकर हंगामा शुरू कर दिया| दुल्हन के भाई का कहना है कि बारातियों ने दहेज की मांग को लेकर स्टेज पर गोलियां भी चला दी। इतना ही नहीं मेरी बहन को मारा और मां का गला भी दबाकर दहेज का सामान लूटने करने की कोशिश की।


दूल्हे का उत्पात देख दुल्हन की तबियत बिगड़ी 

दहेज की मांग पूरी न होने पर दूल्हे ने आपा खो दिया और मारपीट करने लगा। मारपीट में दुल्हन भी घायल हो गई, दूल्हे के उत्पात देखकर दुल्हन शिल्पी की तबीयत भी बिगड़ गई।  परिजनों ने शिल्पी को इलाज के लिए अस्पताल पहुँचाया| वहीं बारातियों ने जमकर हंगामा करते हुए दहेज का सामान अपनी गाड़ी में भरने की कोशिश की। जब वधु व उसके परिवार ने विरोध किया तो उन्होंने सबकी मारपीट करना शुरू कर दी। इससे वधु पक्ष ने तत्काल पुलिस को सूचना दी, जिस पर पुलिस मौके पर पहुंची और दूल्हे समेत बारातियों को हिरासत में ले लिया|