कांग्रेस पर गरजे अमित शाह, बोले- जिसके पास न नेता, न नीति वो क्या करेंगे विकास

ग्वालियर

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने ग्वालियर में युवा कार्यकर्ता सम्मेलन कांग्रेस सहित सभी विपक्षी दलों को निशाने पर लिया।  उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पास न नेता है न नीति और ये सरकार बनाने और विकास की बात करते हैं। हमारे पास नीति है देश में नरेन्द्र मोदी और प्रदेश में शिवराज जैसे नेता हैं जिन्होंने देश और प्रदेश में विकास की नै इबारत लिखी है। 

ग्वालियर के संस्कृति गार्डन में युवा मोर्चा द्वारा आयोजित युवा सम्मेलन को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि  भारतीय जनता पार्टी की सरकार देश से गरीबी, बेरोजगारी, भुखमरी जैसी कई बड़ी समस्याओं को हटाने की योजनाएं बनाती है लेकिन राहुल बाबा एन्ड कम्पनी मोदी हटाने की योजना बनाते है।  उन्होंने कहा कि जिनके पास देश की जनता के बारे सोचने की शक्ति ना हो वो क्या देश का विकास करेंगे। अमित शाह ने रानी लक्ष्मी बाई, पंडित रामप्रसाद बिस्मिल, महादजी सिंधिया, अटल बिहारी वाजपेयी, राजमाता सिंधिया को याद करते हुए कहा कि ग्वालियर चम्बल की भूमि इन महापुरुषों की कृतित्व की भूमि है। जिसने देश के लिए कई उदाहरण प्रस्तुत किये हैं। 

अमित शाह ने कहा कि मध्य प्रदेश राजस्थान और छत्तीसगढ़ के चुनाव परिणाम देश को बदलने वाले होंगे ये तय करेंगे कि देश में किसकी सरकार हो व्यक्तियों के आधार पर चलने वाली पार्टी की या विचारों पर चलने वाली पार्टी की। अमित शाह ने कांग्रेस, सपा, बसपा सहित  विपक्षी दलों को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि जो लोग परिवार से आगे की नहीं सोच पाते, जिनके पास ना नेता है ना नीति, जो देश की गरीब, भुखमरी, बेरोजगारी जैसे समस्याओं को हटाने की जगह मोदी हटाओ का सपना देखते हैं वो क्या देश का विकास करेंगे, वो क्या देश का भविष्य बनायेंगे। उन्होंने घोषणा की कि यदि मध्यप्रदेश में फिर हमारी सरकार बनी तो शिवराज सिंह ही मुख्यमंत्री होंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने मध्यप्रदेश को डाकुओं का प्रदेश बना दिया और भाजपा की शिवराज सरकार ने इसे बीमारू से विकसित राज्यों की श्रेणी में ला दिया।

अमित शाह ने अपने संबोधन के अंत में युवाओं से कहा कि आप देश का भविष्य हो और भविष्य बनाने की ताकत भी रखते हो इसलिए आज यहाँ से संकल्प लेकर जाएँ कि 2018 में मध्यप्रदेश में 2019 में केंद्र में भाजपा की सरकार बनाने में प्राणप्रण से जुट जायेंगे ।युवा सम्मेलन में से पहले अमित शाह राजमाता विजयाराजे सिंधिया, रानी लक्ष्मी बाई की समाधि पर पहुंचे और पुष्पांजलि अर्पित की इसके अलावा वे शिंदे की छावनी स्थित अटलजी के निवास पर भी गए और उनके परिजनों से मुलाकात कर अटलजी के निधन पर शोक जताया।

युवा सम्मेलन के मौके पर मंच पर केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर, केन्द्रीय मंत्री एवं प्रदेश चुनाव प्रभारी धर्मेन्द्र प्रधान,संगठन मंत्री विनय सहस्त्रबुद्धे,सांसद प्रभात झा,  प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह, मंत्री जयभान सिंह पवैया, मंत्री नरोत्तम मिश्रा, मंत्री माया सिंह, मंत्री नारायण सिंह कुशवाह, युवा मोर्चे के प्रदेश अध्यक्ष अभिलाष पांडे सहित कई वरिष्ठ नेता और मंत्री उपस्थित थे।