Breaking News
प्रशासन बता रहा 'डेंगू' छुआछूत की बीमारी | किसकी होगी पूरी मुराद, आज महाकाल के दर पर सिंधिया-शिवराज | सड़क पर सियासत : कमलनाथ बोले- बुधनी से अच्छी छिंदवाड़ा की सड़कें, शिवराज जी एक बार जरुर आए | सुल्तानगढ़ वॉटरफॉल हादसा : मौत से संघर्ष के बाद भी कैसे हार गई 9 जिंदगियां, देखें वीडियो | शर्मसार : सागर में नाबालिग से गैंगरेप, बीते दिनों ही मिला था सबसे सुरक्षित शहर का तमगा | कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने लिया विस चुनाव में भाजपा को उखाड़ फेंकने का संकल्प | केंद्रीय मंत्री की बहन को एसिड अटैक और मारने की धमकी | खाना खाने के बाद बिगड़ी तबियत, दो सगी बहनों की मौत, मां की हालत गंभीर | पूर्व राष्ट्रपति शंकर दयाल शर्मा की जन्मशताब्दी मनाएगी सरकार : शिवराज | अस्पताल के बच्चा वार्ड में लगी आग, मची अफरा-तफरी, 35 बच्चे थे भर्ती |

सावधान: सीएम हेल्पलाइन में भी सुरक्षित नहीं है डाटा, ठग ने फोन कर बैंक खाते से उडाए पैसे

ग्वालियर।

अभी तक ऑनलाइन ठगी और डाटा लीक होने की कई घटनाएं सामने आई हैं लेकिन ग्वालियर की एक महिला के साथ बदमाशों ने जैसी ठगी की है उसकी सरकार पर ही सवाल खड़े कर दिए हैं। दरअसल ग्वालियर के माधवगंज में रहने वाले शशिकांत वरगे की पत्नी ने एसबीआई से उन्नति क्रेडिट कार्ड लिया लेकिन बैंक ने कार्ड में उनके सरनेम को बदल दिया जिसकी शिकायत उन्होंने बैंक प्रबंधन से की। लेकिन जब बहुत दिनों तक निराकरण नहीं हुआ तो उन्होंने इसकी शिकायत सीएम हेल्प लाइन में इसकी शिकायत की। 21 अप्रैल को सुमन वरगे की ओर से सीएम हेल्प लाइन क्रमांक 5905664 पर की। शिकायत के बाद 9 मई को उनके पास मोबाइल नंबर 7466084620 से कॉल आया कि आपने क्रेडिट कार्ड के बारे में सीएम हेल्प लाइन में शिकायत की थी हम एसबीआई मुख्यालय से बोल रहे है। फोन करने वाले ने सुमन से कार्ड का नंबर पूछा फिर पासवर्ड पूछा। चूंकि सुमन ने शिकायत की थी इसलिए फोन करने वाले को कार्ड के बारे में पूरी जानकारी दे दी। लेकिन थोड़ी ही देर सुमन के पास  मोबाइल पर अमेजन पे ऑनलाइन की ओर से 35500 रुपये की खरीदी का मैसेज आया  जिसे देखकर उनके होश उड़ गए। सुमन ने अपने साथ हुई ठगी की शिकायत एसपी ऑफिस की सायबर सेल में की है। साथ ही अपने क्रेडिट कार्ड को ब्लॉक करा दिया है। सुमन के पति शशिकांत वरगे के अनुसार जिस नंबर से फोन आया था वो कॉलर आई डी पर उत्तरप्रदेश शो कर रहा है साथ ही उसपर क्रेडिट कार्ड एसबीआई लिखा है। वरगे ने अंदेशा जताया है कि उन्होंने सीएम हेल्प लाइन में शिकायत की थी और यदि उनकी निजी जानकारी ठगों तक लीक हुई है तो निश्चित ही इसमें विभागीय लोग शामिल होंगे। बहरहाल इतना तो तय है आपका डाटा सरकार के पास भी सुरक्षित नहीं है।


  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...