Breaking News
व्यापमं का जिन्न फिर बाहर: दिग्विजय ने शिवराज, उमा समेत 18 के खिलाफ किया परिवाद दायर | चुनाव लड़ने का इंतजार कर रहे बीजेपी के 70 विधायकों में मचा हड़कंप! | अधिकारी की कलेक्टर को नसीहत, 'आपकी कार्यशैली पर लज्जा आती है, तबादला करा लें' | दागियों का कटेगा टिकट, साफ-सुथरी छवि के नेताओं को चुनाव में उतारेगी भाजपा | फ्लॉप रहा कांग्रेस का 'घर वापसी' अभियान, सिर्फ कार्यकर्ता लौटे, नेताओं ने बनाई दूरी | शिवराज कैबिनेट की बैठक ख़त्म, इन प्रस्तावों पर लगी मुहर | सीएम चेहरे को लेकर सोशल मीडिया पर जंग, दिग्विजय भड़के | मुख्यमंत्री के काफिले पर पथराव, महिदपुर- नागदा के बीच की घटना, पुलिस वाहन के कांच फूटे | अब भोपाल में राहुल ने फिर मारी आंख, वीडियो वायरल | एमपी की 148 सीटों पर खतरा, बिगड़ सकता है बीजेपी का चुनावी गणित |

VIDEO : तो क्या ऐसे मिलेगा मजदूरों को रोजगार...

हरदा। जितेंद्र सिंह साध ।

जनपद पंचायत खिरकिया की ग्राम पंचायत हसनपुरा में आदिवासी ग्रमीणों की संख्या ज्यादा  होने से गलत फायदा सरपंच ओर सचिव उठा रहै है। गांव में मनमाने ढंग से कार्य कराए जा रहे हैं। ग्रेवल रोड का काम मशीनों से कराकर फर्जी मस्टर भरे जा रहे हैं। मार्ग के निर्माण के लिए दिन दहाड़े बेख़ौफ़ जेसीबी मशीन का इस्तेमाल किया जा रहा है। ग्राम में रोजगार की भारी कमी है। मजदूर रोजगार के लिए ग्राम से पलायन कर रहे है पंचायत में बैठे जनप्रतिंधि ,सचिव अपने आर्थिक हितों को साधने के लिए मनरेगा योजना में रजिस्टर्ड मजदूरो को रोजगार देने की जगह जेसीबी चलाकर विकास कार्य कर रहे है ।

पंचायत के ग्रमीण ने नाम न लिखने की शर्त पर बताया पूर्व में भी इसी सड़क के आधे हिस्से का  निर्माण जेसीबी से किया जा चुका है, जिसमे भी सरपंच सचिव के रिश्तेदारों को मजदूर बताकर राशि निकाल ली गयी थी। अब भी इन्होंने मजदूरों की जगह जेसीबी मशीन से सड़क को बनाया है।मजदूरों को काम नहीं दिया। फर्जी मस्टर बनाए हैं ।


  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...