VIDEO : तो क्या ऐसे मिलेगा मजदूरों को रोजगार...

हरदा। जितेंद्र सिंह साध ।

जनपद पंचायत खिरकिया की ग्राम पंचायत हसनपुरा में आदिवासी ग्रमीणों की संख्या ज्यादा  होने से गलत फायदा सरपंच ओर सचिव उठा रहै है। गांव में मनमाने ढंग से कार्य कराए जा रहे हैं। ग्रेवल रोड का काम मशीनों से कराकर फर्जी मस्टर भरे जा रहे हैं। मार्ग के निर्माण के लिए दिन दहाड़े बेख़ौफ़ जेसीबी मशीन का इस्तेमाल किया जा रहा है। ग्राम में रोजगार की भारी कमी है। मजदूर रोजगार के लिए ग्राम से पलायन कर रहे है पंचायत में बैठे जनप्रतिंधि ,सचिव अपने आर्थिक हितों को साधने के लिए मनरेगा योजना में रजिस्टर्ड मजदूरो को रोजगार देने की जगह जेसीबी चलाकर विकास कार्य कर रहे है ।

पंचायत के ग्रमीण ने नाम न लिखने की शर्त पर बताया पूर्व में भी इसी सड़क के आधे हिस्से का  निर्माण जेसीबी से किया जा चुका है, जिसमे भी सरपंच सचिव के रिश्तेदारों को मजदूर बताकर राशि निकाल ली गयी थी। अब भी इन्होंने मजदूरों की जगह जेसीबी मशीन से सड़क को बनाया है।मजदूरों को काम नहीं दिया। फर्जी मस्टर बनाए हैं ।