परिजनों ने की स्कूल में तोड़फोड़, एसोसिएशन ने किया जिले के सभी स्कूल बंद का आह्वान

हरदा। 

मध्यप्रदेश के हरदा जिले के ग्राम भूराली टप्पर में मंगलवार को 26 स्कूली बच्चों से भरा वाहन पलटते-पलटते बच गया था। इस घटना में ड्राइवर सहित सात बच्चों को हल्की चोटें आई थी। वही मौके पर पहुंची एम्बुलेंस घायल बच्चों को छोड़कर ड्राइवर को लेकर रवाना हो गई। इस घटना के बाद 

बच्चों के परिजनों नाराजगी जताई और विरोध में स्कूल में तोड़फोड़ करते हुए चक्काजाम कर दिया था।इसी घटना से आक्रोशित निजी स्कूल एसोसिएशन ने बुधवार को जिले के सभी स्कूलों को बंद करने का आह्वान कर दिया।जिसके चलते आज सभी स्कूल बंद है।

जानकारी के अनुसार, जिले के टिमरनी के  नॉलेज पब्लिक स्कूल की वैन मंगलवार को शहर से करीब तीन किमी दूर भायली टप्पर के पास  अनियंत्रित होकर सड़क से नीचे उतर गई थी और पलटते पलटते बच गई थी।इस हादसे में करीब एक दर्जन बच्चे घायल हो गए।सूचना मिलने पर 108 एम्बुलेंस स्कूल पहुचीं। हैरत की बात तो यह थी कि घायल बच्चों को मौके पर छोड़कर एम्बुलेंस घायल ड्राइवर को लेकर रवाना हो गई। वैन की दुर्घटना की सूचना पर बच्चों के अभिभावक भी तत्काल मौके पर पहुंच गए और निजी अस्पताल में इलाज कराने ले गए। इस हादसे में कथित तौर पर स्कूल प्रबंधन ने घायल बच्चों को घटनास्थल पर ही छोड़कर ड्राइवर को इलाज कराने के लिए ले जाने पर परिजन नाराज हो गए थे। उन्होंने विरोध में स्कूल में तोड़फोड़ करते हुए चक्काजाम कर दिया था।परिजनों द्वारा स्कूल में की गई तोड़फोड़ को लेकर निजी स्कूल एसोसिएशन के आह्वान पर आज बुधवार को सभी स्कूल बंद रखे गए। इसी के चलते आज जिले के सभी निजी स्कूल बंद है।