70 हजार मतदाताओं ने बीजेपी को वोट करने से किया इनकार, बताई ये वजह

भोपाल/हरदा। मध्य प्रदेश में बीजेपी की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। विधानसभा चुनाव में तीन महीने का समय बचा है, लेकिन वेटरो का मोह बीजेपी से कम होता दिखाई दे रहा है। एक ओर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जनता का आशीर्वाद लेने यात्रा कर रहे हैं। दूसरी ओर कुछ वर्ग अपनी मांगों के पूरा  होने से बीजेपी को वोट देने से मना कर रहे हैं। मामला अतिथि श्क्षकों से जुड़ा है। प्रदेश के ७० हजार से ज्यादा अतिथि शिक्षकों ने विधानसभा चुनाव में सरकार के खिलाफ मोर्चा खेल दिया है।

दरअसल, प्रदेश भर में शिक्षक दिवस के मौके पर अतिथि शिक्षकों ने शिक्षक दिवस पर काली पट्टी बांधकर सरकार का विरोध किया। हरदा जिलाध्यक्ष सादिक खान ने मीडिया को बताया कि शिक्षकों को उम्मीद थी कि मुख्यमंत्री उनकी मांग शिक्षक भर्ती से पहले अतिथि शिक्षकों का पद स्थायित्व, शेष रिक्त पदों पर ऑफ लाइन भर्ती की जाए, जिसमें पूर्व से कार्यरत् अतिथि शिक्षकों को प्राथमिकता दी जाए, वेतन वृद्धि के आदेश जारी करने की घोषणा करेंगे, लेकिन ऐसा नहीं किया गया। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा उनके साथ कुठराघात किया जा रहा है। इसलिए प्रदेश के 70 हजार अतिथि शिक्षक आगामी विधानसभा चुनाव में वोट नहीं देंगे। साथ ही जनता को उनकी जनविरोधी नीति को बताएंगे। 

"To get the latest news update download tha app"