आधी रात बड़ी प्रशासनिक सर्जरी, शिवराज सरकार के पावरफुल अफसर मंत्रालय से बाहर

भोपाल। शिवराज सरकर में ताकतवर और मलाईदार पदों पर रहे अफसरों को कमलनाथ सरकार ने मंत्रालय से बाहर लूप लाइन में भेज दिया है। लेकिन शिवराज सरकार में चहेते रहे दो अफसरों पर मुख्यमंत्री कमलनाथ भी फिदा हो गए हैं। यही वजह है कि साढ़ पांच साल से कृषि विभाग की कमान संभाल रहे प्रमुख सचिव राजेश राजौरा और साढ़े चार साल से महिला एवं बाल विकास विभाग के प्रमुख सचिव रहे जेएन कंसोटिया को सरकार हिला नहीं पाई है। खास बात यह है कि शिवराज सरकार में पोषण आहार घोटाले को लेकर कंसोटिया कांगे्रस के निशाने पर रहे हैं। 

प्रमुख सचिव राजेश राजौरा 27 सितंबर 2013 से कृषि विभाग के प्रमुख सचिव की कमान संभाल रहे हैं। शिवराज सरकार में लगातार कृषि कर्मण अवॉर्ड जीतने से लेकर किसानों के हित में तमाम योजनाएं राजौरा के समय ही लागू की गईं। सत्ता परिवर्तन के बाद कृषि विभाग से राजौरा की विदाई की अटकलें शुरू हो गईं थी, लेकिन मंगलवार देर रात आई वरिष्ठ आईएएस अफसरों की सूची में राजौरा का नाम नहीं था। वहीं महिला एवं बाल विकास विभाग में जेएन कंसोटिया 19 अगस्त 2014 से जमे हैं। कांग्रेस जब विपक्ष में थी तब पोषण आहार घोटाल को लेकर जेएन कंसोटिया भी विपक्ष के निशाने  पर थे। सत्ता में आते ही कंसोटिया कमलनाथ सरकार के चहेते अफसरों में शामिल हो गए। कंसोटिया को विभाग से नहीं हटाने की यह वजह भी सामने आ रही है कि वे अजाक्स के मुखिया हैं। निकट भविष्य में लोकसभा चुनाव होना है, ऐसे में कंसोटिया को नहीं हटाना राजनीतिक लाभ से जोड़कर देखा जा रहा है। हालांकि कंसोटिया विपक्ष के निशाने पर रहे हैं। 


सीएस के दावेदार मंत्रालय से बाहर

एक महीने पहले तक अपर मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस मुख्य सचिव के दावेदार थे। उनकी गिनती शिवराज सरकार के चहेते अफसरों में होती थी। कमलनाथ सरकार ने उन्हें मंत्रालय से बाहर माध्यमिक शिक्षा मंडल में बतौर चैयरमेन दिया है। इसी तरह से पिछले 11 साल से नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण की कमान संभाल रहे रजनीश वैश्य को भी बाहर का रास्ता दिखा दिया है। अब वे आदिवासी अनुसंधान संस्थान में शोध करेंगे। वहीं कृषि उत्पादन आयुक्त पीसी मीणा को भी मंत्रालय से बाहर कर दिया है, उन्हें पीईबी का अध्यक्ष बनाया गया है। अपर मुख्य सचिव प्रभांशु कमल को एपीसी कृषि बनाया गया है। खास बात यह है कि ये चारों अधिकारी मुख्य सचिव की दौड़ में शामिल थे। जिन्हें मुख्य सचिव एसआर मोहंती ने मंत्रालय से बाहर करवा दिया है। 

वहीं गौरी सिंह को 3 साल पूरा होने के बाद स्वास्थ्य विभाग से हटाकर एसीएस पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग, अजीत केसरी को फिर से सहकारिता विभाग की कमान सौंप दी है। पंकज अग्रवाल को एनवीडीए की जिम्मेदारी सौंपी गई है। आईजी रजिस्ट्रार कल्पना श्रीवास्तव को भोपाल संभाग की पहली महिला आयुक्त बनाया गया है।


इनके हुए तबादले 



नाम    वर्तमान पदस्थापना    नवीन पदस्थापना
पीसी मीणा    एपीसी, कृषि    अध्यक्ष, पीईबी 
रजनीश वैश    उपाध्यक्ष, एनवीडीए    डायरेक्टर,  टीआरआई 
इकबाल सिंह बैंस    एसीएस, पंचायत एवं ग्रामीण विकास   अध्यक्ष, माशिमं 
प्रभांशु कमल    एसीएस जीएडी   एपीसी, कृषि 
वीसी सेमवाल    एसीएस, जेल    एसीएस, जीएडी 
गौरीसिंह   प्रमुख सचिव, स्वास्थ्य   प्रमुख सचिव, पंचायत एवं ग्रामीण विकास
अजीत केसरी    प्रमुख सचिव, संसदीय कार्य   प्रमुख सचिव, सहकारिता
पंकज अग्रवाल    प्रमुख सचिव, एमएसएमई   उपाध्यक्ष, एनवीडीए
केसी गुप्ता    प्रमुख सचिव, सहकारिता   एमडी, लघु उद्योग निगम
कल्पना श्रीवास्तव    आईजी, रजिस्ट्रेशन   कमिश्नर, भोपाल 
पल्लवी जैन गोविल    प्रमुख सचिव, खाद्य   प्रमुख सचिव, स्वास्थ्य
डीपी आहूजा    सीईओ,रोजगार निर्माण बोर्ड    सीईओ, आरआरडीए
नीतेश व्यास    सीईओ, आरआरडीए    कमिश्नर, स्वास्थ्य
अमित राठौर    सचिव, पंचायत एवं ग्रामीण    आईजी, रजिस्ट्रेशन
करलीन खोंगवार देशमुख    एमडी, राज्य भंडार गृह निगम    कमिश्नर, हाउसिंग बोर्ड
कवींद्र कियावत    कमिश्नर, भोपाल    संचालक, प्रशासन अकादमी
एमबी ओझा    प्रतीक्षारत    कमिश्नर,महिला एवं बाल विकास
आशुतोष अवस्थी    कमिश्नर, जबलपुर   श्रमायुक्त, इंदौर
अशोक भार्गव   कमिश्नर, महिला बाल विकास    कमिश्नर, रीवा
राजेश बहुगुणा    श्रमायुक्त, इंदौर   कमिश्नर, जबलपुर
रवींद्र सिंह   एमडी, हाउसिंग बोर्ड   अपर सचिव, खाद्य
डॉ. विजयकुमार जे    उप सचिव, मंत्रालय    संचालक, स्वास्थ्य 
हर्षिका सिंह   उप सचिव, जीएडी   उप सचिव, वित्त
अजय कुमार शर्मा    अपर सचिव, स्कूल   परियोजना संचालक, एनआरएलएम 
रमेश भंडारी    कलेक्टर, छतरपुर   एमडी, बीज विकास निगम
उर्मिला शुक्ला    डायरेक्टर, वाल्मी    डायरेक्टर, पंचायती राज
शशि भूषण सिंह   उप सचिव, जीएडी    संचालक, एनवीडीए, इंदौर
अनय द्विवेदी    उप सचिव, जीएडी    अपर आयुक्त, भू-अभिलेख ग्वालियर
अभिजीत अग्रवाल    उप सचिव, मंत्रालय   अपर संचालक, अर्बन डेवलपमेंट कार्पोरेशन 
मोहित बुंदस    अपर मिशन संचालक, राज्यशिक्षा केंद्र    कलेक्टर, छतरपुर
संदीप जीआर   सीईओ, जिपं, उज्जैन   आयुक्त, नगर निगम,    सतना

"To get the latest news update download the app"