BJP दफ्तर में गूंजे शिवराज मुर्दाबाद के नारे, इस उम्मीदवार को विरोध

भोपाल। मध्य प्रदेश में बीजेपी नेताओं के खिलाफ लगातार विरोध बढ़ता जा रहा है। टिकट वितरण से खफा कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। राजगढ़ के वर्तमान सांसद और उम्मीदवार रोडमल नागर का विरोध चरम पर है। कार्यकर्ताओं ने भोपाल पहुंच कर भाजपा प्रदेश कार्यालय के सामने शिवराज मुर्दाबाद के नारे लगाए। भाजपा कार्यकर्ता हाथ में तख्ती लिए हुए थे जिसमे लिखा था 'माफ़ करो शिवराज, हमें चाहिए मोदी राज'।

दरअसल, रोडमल नागर को लेकर राजगढ़ के स्थानीय कार्यकर्ताओं में आक्रोश है। कार्यकर्ताओं का कहना है कि रोडमल ने अपने क्षेत्र में विकासकार्य नहीं किया। जिससे उनके खिलाफ विरोध का माहौल है, न ही पिछले पांच साल में उनकी सक्रियता रही और न ही वो कार्यकर्ताओं से मिलते हैं। कार्यकर्ताओंं का आरोप है कि पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के दबाव की वजह से रोडमल नागर को टिकट दिया गया है। इसलिए नाराज कार्यकर्ताओं ने भोपाल पहुंचकर शिवराज के खिलाफ में जमकर नारेबाजी की और मुर्दाबाद के नारे लगाए। कार्यकर्ता मांग कर रहे हैं रोडमल का टिकट बदल कर किसी और को दिया जाए। 

पहले भी हुआ है विरोध प्रदर्शन

पिछले दिनों मार्च में हुई चुनाव समिति की बैठक में भी भाजपा कार्यालय पहुंचकर राजगढ़ के कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया था। वो राजगढ़ सांसद रोडमल नागर के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे। कार्यकर्ताओं का कहना था कि यदि नागर को टिकट दिया तो वो चुनाव में काम नहीं करेंगे। इस से पहले भी राजगढ़ में एक सभा के दौरान शिवराज सिंह चौहान की मौजूदगी में भाजपाइयों ने नारेबाजी की थी और कहा था कि 'मोदी तुझसे बेर नहीं रोडमल तेरी खेर नहीं'। खास बात यह है कि रोडमल नागर का विरोध लम्बे समय से उनके ही क्षेत्र में हो रहा है, और इस बार उनका टिकट कटने की भी पूरी संभावना थी, लेकिन हाई कमान ने सभी विरोध को नजरअंदाज कर उन्हें रिपीट किया| बताया जा रहा है कि शिवराज के हस्तक्षेप के चलते रोडमल को टिकट मिला है।

भोपाल, इंदौर और विदिशा अटकेंगे 

पार्टी सूत्रों के अनुसार, इस बार भोपाल, इंदौर और विदिशा सीट के लिए प्रत्याशियों की घोषणा में समय लग सकता है। इसकी वजह भी है। पार्टी इन सीटों पर 30 से 35 साल से लगातार जीतती आ रही है। कांग्रेस की मंशा इन तीन सीटों पर मजबूत उम्मीदवार उतारने की है। मुख्यमंत्री कमलनाथ इस बात के संकेत दे चुके हैं। कांग्रेस की इस रणनीति को देख भाजपा इन तीन सीटों पर अपने उन्मीदवार एनवक्त पर घोषित कर सकती है



"To get the latest news update download the app"