एमपी में जारी रहेगी अभी आफत की बारिश, 14 ज़िलों में RED अलर्ट जारी

भोपाल। मध्य प्रदेश में बारिश का कहर जारी है। मौसम विभाग लगातार अलर्ट जारी कर रहा है। प्रदेश के सभी बड़े डैम के गेट खोल दिए गए हैं। राजधानी भोपाल में भी बारिश का सिलसिला जारी है।  राजधनी सहित 19 जिलों में 24 घंटों के लिए ऑरेंज अलर्ट (भारी बारिश) जारी किया है। भोपाल में इससे पहले 2006 में सीजन में करीब 1684 मिमी वर्षा हुई थी जबकि 2019 में 12 सितंबर तक ही कुल 1600 मिमी बारिश हो चुकी है। अगर इसी तरह बारिश का दौर जारी रहा तो राजधानी में पिछले 13 साल का रिकार्ड टूट सकता है। 

मौसम विभाग के अनुसार आगामी दो दिन भोपाल और आसपास के इलाकों में कहीं कहीं भारी बरसात भी हो सकती है। 30 साल में पहली बार कम दबाव का क्षेत्र लगातार पिछले 8 दिन से सक्रिय है। यह सिस्टम पिछले पांच दिन से मप्र में बना हुआ है। अरब सागर से नमी मिलने के कारण यह और शक्तिशाली हो गया है। साथ ही मानसून ट्रफ के भी प्रदेश से गुजरने के कारण अनेक स्थानों पर तेज बरसात का दौर जारी है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक अभी 3-4 दिन तक बारिश से राहत के आसार नहीं हैं। मौसम विज्ञानी ने बताया कि इस बार मई जून माह में प्रदेश में भीषण गर्मी पड़ी थी। रिकार्ड गर्मी पडऩे के कारण मानसून को जबरदस्त ऊर्जा मिली। इसके अलावा जुलाई के अंतिम सप्ताह के बाद बंगाल की खाड़ी से लगातार कम दबाव के क्षेत्र बनकर आगे बढ़ते रहे। इससे बरसात का सिलसिला अभी भी जारी है।

यहां बारिश की चेतावनी

इस बीच मौसम विभाग ने अगले चौबीस घंटों में प्रदेश के 14 जिलों इंदौर, धार, झाबुआ, खंडवा, अलीराजपुर , बैतूल , होशंगाबाद ,हरदा, देवास , राजगढ, सीहोर , विदिशा, खरगोन, एवं सागर जिलों में कही कही भारी से अति भारी बारिश की चेतावनी आज जारी की है।

इसी के साथ 19 जिलों आगर,अनूपपुर , डिंडोरी, जबलपुर , नरसिंहपुर, मंडला, बालाघाट , सिवनी , छतरपुर, पन्ना , दमोह , गुना , अशोकनगर , शिवपुरी, रतलाम, शाजापुर, भोपाल , रायसेन और रीवा जिलों में कही कही भारी वर्षा की चेतावनी दी गई है।


"To get the latest news update download the app"