राहुल की सभा में भीड़ जुटाने तम्बू लगाकर बांटी गई शराब, देखिये वीडियो

भोपाल। आभार सम्मलेन में शामिल होने आये कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की सभा में प्रदेश भर से बसों में लोगों की भीड़ को लाया गया| इनकी खातिरदारी के लिए बाकायदा शराब बांटी गई| भोपाल से सटे ग्यारहमील मुख्य मार्ग पर खुलेआम तम्बू लगाकर बियर की बोतले दी गई| यहां जंबूरी मैदान में राहुल गांधी किसान आभार यात्रा को संबोधित कर रहे थे, वहीं रैली में शमिल होने पहुँच रहे लोगों को बसों में बियर पहुंचाई जा रही थी| यह सब वहाँ हो रहा था जहां पुलिस हमेशा चौकस रहती है और राहुल गांधी के दौरे को लेकर तो पूरा शहर छावनी बना हुआ था| इन सबके के बावजूद सड़क किनारे खुलेआम तम्बू में बियर की पेटियां रखी हुई नजर आई और लोगों ने जमकर इस खातिरदारी का आनंद भी लिया और वहीं बोतलों का ढेर लगाकर चले गए, कुछ अपने साथ भी ले गए| 

दरअसल, शुक्रवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी किसानों का आभार व्यक्त करने भोपाल पहुंचे थे।सभा में सम्मिलित होने के लिए पूरे प्रदेश के किसान बसों में भरकर यहां लाए गए थे। कुछ बसों को सीधा जंबूरी मैदान में जाने दिया जा रहा था तो कुछ को बीच में ही रोका जा रहा था।  वहीं मंडीदीप से आने वाली बसों को पहले ग्यारह मील पर रोका जा रहा था और उन्हे बकायदा ठंड़ी बियर बांटी गई। इसके लिए यहां जिला कांग्रेस कमेटी सिवनी वालों ने एक टेंट लगाया हुआ था, जिसमें लोग पर्ची ले- लेकर पहुंच रहे थे और अपने हिस्से की पर्ची पर लिखी संख्या के अनुसार बोतले लेकर जा रहे थे। कुछ वही पीकर मग्न हो गए तो कुछ अपने साथ ले गए। आलम ये हो गया कि लोग बोतले और पैकेट वही सड़कों पर इधर उधपर फेंकने लगे। इस दौरान वहां खूब हो हल्ला होता रहा, लोग पीकर टुन्न हो गए।  मिसरोद क्षेत्र के लोगों की शिकायत के बाद पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन मूक दर्शक बनकर देखती रही। कुछ लोगों ने इसका वीडियो भी बनाया, वीडियो में यह नजारा कैद हुआ, जहां एक कांग्रेस के झंडे वाली गाड़ी भी खड़ी हुई थी, शराब के तंबू के के बगल में जो गाड़ी खड़ी थी उसका नंबर है MP 22 CA 2858। ये सिवनी जिले के सबसे बड़े शराब करोबारी की गाड़ी है और सिवनी जिला में कांग्रेस के महामंत्री हैं, जिसका नाम संजय भारद्वाज बताया जा रहा है| जब कांग्रेस नेताओं से इस बारे में बात की गई तो उन्होंने साफ इंकार कर दिया। कांग्रेस नेताओं का कहना था कि पैकेट में खाना था, हमने खाना दिया तो बियर कहां से आई हमें नही पता। वही पुलिस का कहना है कि जब तक हम पहुंचे वहां से तंबू हट चुका था। हमें ऐसी कोई सूचना नही मिली।

गौरतलब है कि नेताओं की रैली में यू सरेआम शराब या अन्य खाद्य सामग्री बांटने पहला मौका नही है। विधानसभा चुनाव के दौरान ऐसे कई मामले सामने आए थे। बीते दिनों मोदी की सभा में खाने के पैकेट में लोगों को घड़िया बांटी गई थी। जिसको लेकर कांग्रेस ने आपत्ति जताई थी।हालांकि जब जब चुनाव आते है इस तरह की खबरे अक्सर मीडिया में सुर्खियां बनती रही है। अब देखना है कि सीएम कमलनाथ इस घटनाक्रम पर क्या एक्शन लेते है। क्या बड़े नेताओं की रैलियां में भीड़ जुटाना इतनी बड़ी चुनौती बन गया है कि शराब का लालच देकर भीड़ लायी जा रही है| 






"To get the latest news update download the app"