MP ELECTION : संघ से फीडबैक लेने के बाद भाजपा चुनाव परिणामों को लेकर जता रही भरोसा

भोपाल। मध्यप्रदेश में इन दिनों चारों तरफ बस एक ही चर्चा है कि सरकार किसकी बनेगी। मतदातओं की खामोशी, सट्टे बाजार के उतार-चढ़ाव और पंडितों की भविष्यवाणियों ने लोगों की बैचेनी और बढ़ा दी है।ऐसे में बीजेपी भले ही चौथी बार सत्ता में आने का दावा कर रहे है लेकिन वास्तविकता तो ये है कि पार्टी नेताओं को अंदर ही अंदर हार का डर भी सताने लगा है।खबर है कि इस असंमजस्य की स्थिति को दूर करने आरएसएस से फीडबैक लिया जा रहा है।मतदान के बाद लगातार चार दिन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने मैदानी फीडबैक लिया है और इससे भाजपा को भी अवगत कराया है। वही मुख्यमंत्री शिवराज भी मंत्रियों, विधायकों और सांसदों से मुलाकात कर क्षेत्र का हाल जान रहे है।

दरअसल, टिकट बंटवारे के बाद ही भाजपा को बागियों और निर्दलीयों के कारण कई सीटों पर डर बना हुआ था। जिसके चलते संघ को मतदान के बाद मोटे-मोटे तौर पर आंकलन करने को कहा गया था।  संघ ने आखिरी चार दिनों में भाजपा के चुनावी अभियान में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। आखिरी चार दिन में करीब 65 सीटों पर संघ के कार्यकर्ताओं की कई टीम चुनाव अभियान में झोंकी गई थी। इन कार्यकर्ताओं ने इन सीटों पर नाराज चल रहे पार्टी के वरिष्ठ कार्यकर्ताओं को मनाने के साथ चुनावी मैनेजमेंट में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। इसलिए मतदान के बाद फिर से आरएसएस  द्वारा इन सीटों पर फीडबैक लिया गया, फीडबैक के बाद राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के पदाधिकारी भी नतीजों को लेकर आश्वस्त नजर आ रहे है। जिसके दम पर भाजपा नेता मीडिया के सामने जीत का दावा कर रहे है।वही मतदान के बाद होशंगाबाद से चुनाव लड़े विधानसभा अध्यक्ष डॉ. सीतासरन शर्मा सहित विजय शाह जैसे मंत्री के अलावा कुछ विधायकों और सांसदों ने भी मुख्यमंत्री से मुलाकात कर अपनी सीट का फीडबैक दिया है। संघ से फीडबैक लेने के बाद भाजपा संगठन भी चुनाव परिणामों को लेकर भरोसा जता रहा है।हालांकि संघ का फीडबैक कितना सही होगा और कितना नही ये तो आने वाला वक्त ही बताएगा, लेकिन इससे पहले बीजेपी में जीत की खुशी है और इसी दम पर नेता मीडिया के सामने जीत का दाव पेश कर रहे है। 


"To get the latest news update download tha app"