बीजेपी में बगावत के सुर तेज, नपा अध्यक्ष ने किया निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलान

छतरपुर। मध्यप्रदेश के छतरपुर जिले की चंदला विधानसभा सीट पर घमासान शुरू हो गया है। बीजेपी ने यहां से इस बार निवर्तमान विधायक आरडी प्रजापति का टिकट काट कर उनके बेटे राजेश प्रजापति को उम्मीदवार बनाया है। लेकिन पार्टी के इस फैसले के खिलाफ यहां बगावत शुरू हो गई है। चंदला नगर परिषद अध्यक्ष अनित्या सिंह ने पार्टी छोड़ कर निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलान किया है। वह इस सीट से टिकट की मांग कर रही है थीं। लेकिन बीजेपी ने प्रजापति के बेटे को यहां से मैदान में उतारने का फैसला लिया। 

जानकारी के मुताबिक बीजेपी की पहली लिस्ट जारी होने के बाद से जबरदस्त विरोध हो रहा है। टिकट नहीं मिलने वालों ने पार्टी के खिलाफ बगावत शुरू कर दी है। टिकट की मांग कर रही चंदला नगर परिषद अध्यक्ष अनित्या ने पार्टी को बड़ा झटका दिया है। उन्होंने जिला पंचायत अध्यक्ष राजेश प्रजापति के खिलाफ निर्दलीय चुनाव लड़ने का फैसला किया है। 

गौरतलब है कि निवर्तमान विधायक आरडी प्रजापति का टिकट काटकर भाजपा ने उनके बेटे जिला पंचायत अध्यक्ष राजेश प्रजापति को अपना प्रत्याशी बनाया है। राजेश प्रजापति ने जिला पंचायत सदस्य का चुनाव लड़कर राजनीति की शुरुआत की। पहली बार में ही वे जिला पंचायत अध्यक्ष बन गए। उनका यह कार्यकाल पूरा भी नहीं हो पाया कि उन्हें विधानसभा से टिकट मिल गई।

2013 के चुनाव में यहां बीजेपी जीतकर आई। वर्तमान में यहां विधायक हैं आर. डी प्रजापति। उनके पहले 2008 में राम दयाल अहिरवार जीतकर आए थे। बीजेपी और कांग्रेस के अलावा समाजवादी पार्टी भी इस सीट से जीतकर आई थी। 1998 और 2003 में विजय बहादुर सिंह बुंदेला यहां से लगातार जीतकर आए थे। मालूम हो कि वर्तमान विधायक आरडी प्रजापति यहां काफी लोकप्रिय हैं। यही वजह है कि 2013 के विधानसभा चुनाव में मतदाताओं ने उन्हें मध्य प्रदेश की दूसरी सबसे बड़ी जीत दिलवाई थी।  2013 के चुनाव में आरडी प्रजापति जो कि भाजपा के प्रत्याशी थे को 65959 वोट प्राप्त हुए तो वहीं कांग्रेस के प्रत्याशी हरप्रसाद अनुरागी को 28562 वोट प्राप्त हुए थे।

"To get the latest news update download the app"