Breaking News
शिवराज कैबिनेट की अहम बैठक कल, इन प्रस्तावों पर लग सकती है मुहर | मौसम विभाग का अलर्ट, मप्र के इन जिलों में हो सकती है भारी बारिश | VIDEO : बिल्डिंग पर चढ़ आत्महत्या की धमकी देने लगा आरोपी, 4 घंटे चला हंगामा, पुलिस के हाथ पांव फूले | भाजपा नेता की गुंडागर्दी, चौकी प्रभारी को सरेआम पीटा, मामला दर्ज | दुष्कर्म के बाद 5 साल की मासूम की हत्या, घर के ही सेप्टिक टैंक में फेंकी लाश | ई-टेंडर घोटाला : जांच के लिए CFSL भेजी जाएगी हार्ड डिस्क | 21 अगस्त को भोपाल मे होने वाली 'अटल जी' की श्रद्धांजलि सभा में कांग्रेस भी होगी शामिल | 23 हजार ग्राम पंचायत और सभी शहरों में होंगी अटलजी की श्रद्धाजलि सभाएं | चुनाव से पहले यात्राओं का दौर, दिग्विजय के बाद जयवर्धन ने शुरू की पदयात्रा | नायब तहसीलदार का छलका दर्द, "संवर्ण हूँ इसलिए भुगत रहा सजा" |

अब स्कूलों में 'यस सर' नहीं 'जय हिंद' बोलेंगे विद्यार्थी, जारी हुए आदेश

भोपाल| मध्य प्रदेश के सरकारी स्कूलों में छात्र 'यस सर-यस मेम' की जगह अब 'जय हिन्द' बोलेंगे|  राज्य शासन ने मंगलवार को इस संबंध में आदेश जारी कर दिए हैं। स्कूल शिक्षा मंत्री विजय शाह ने करीब आठ महीने पहले यह घोषणा की थी। निजी स्कूलों में जय हिंद बोलने की बाध्यता नहीं है। 

शासन ने आदेश में कहा है कि विद्यार्थियों में देशभक्ति की भावना जागृत करने के लिए यह निर्णय लिया गया है। शासन का कहना है कि अभी स्कूलों में हाजिरी के लिए अलग-अलग शब्द बोले जाते हैं। अब सब जय हिंद ही बोलेंगे। निजी स्कूलों को लेकर असमंजस: जय हिंद सिर्फ सरकारी स्कूलों में बोला जाएगा या निजी स्कूलों में भी। इसे लेकर असमंजस है। दरअसल, शासन ने आदेश में यह स्पष्ट नहीं किया है। सूत्र बताते हैं कि विभाग के मंत्री शाह चाहते हैं कि प्रदेश के सभी (सरकारी एवं निजी) स्कूलों में जय हिंद ही बोला जाए। 

निजी स्कूल खुद करेंगे निर्णय

जारी आदेश में निजी स्कूलों को जय हिंद बोलने की बाध्यता से मुक्त रखा है। आदेश में यह स्पष्ट भी नहीं है। हालांकि सितंबर 2017 में जब शिक्षा मंत्री विजय शाह ने हाजिरी में जय हिंद बोलने की पहल शुरू की थी, तभी यह स्पष्ट कर दिया था कि निजी स्कूल जय हिंद को लेकर खुद फैसला करने के लिए स्वतंत्र होंगे। आदेश में भी यह स्पष्ट नहीं है। 

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...