कांग्रेस में पैराशूट वाले नेताओं को टिकट, जानिये प्रत्याशी सूची की यह ख़ास बातें

भोपाल| मध्य प्रदेश के सियासी मैदान में अब भाजपा और कांग्रेस दोनों ही दलों के प्रत्याशियों का ऐलान हो चुका है| भाजपा के बाद शनिवार को कांग्रेस ने अपने 155 प्रत्याशियों का ऐलान कर दिया है| इस सूची में कई बातों का ध्यान रखा गया है| वहीं सूची में खेमाबाद साफ़ तौर पर देखा जा रहा है| इसके अलावा युवा कांग्रेस और एनएसयूआई को भी कांग्रेस ने महत्त्व दिया है| इसके अलावा कांग्रेस ने भी भाजपा की तरह पैराशूट और बाहरी नेताओं को मौक़ा दिया है| चुनाव से पहले भाजपा छोड़ कांग्रेस में आये तेंदूखेड़ा विधायक संजय शर्मा को टिकट मिला है, वह इसी सीट से फिर चुनावी मैदान में होंगे, लेकिन इस बार संजय भाजपा के खिलाफ चुनाव लड़ेंगे|  वहीं रीवा में भी बीजेपी छोड़ कांग्रेस में आये अभय मिश्रा को टिकट मिला है, वह बीजेपी विधायक नीलम मिश्रा के पति हैं| जानिये कांग्रेस प्रत्याशी सूची की ख़ास बातें  

दिग्विजय के भाई, बेटे और भतीजे को टिकट 

कांग्रेस में प्रत्याशी चयन को लेकर कई दिनों से मचे घमासान के बाद यह सूची आई है| दिग्विजय, कमलनाथ, सिंधिया सभी के समर्थकों को बराबरी से टिकट मिले हैं, बीजेपी की अपेक्षा कांग्रेस की सूची संतुलित आई है।  पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह अपने बेटे जयवर्धन सिंह को और भाई लक्ष्मण सिंह को टिकट दिलाने में सफल रहे हैं। जयवर्धन राघौगढ़ से और लक्ष्मण सिंह चाचौड़ा से चुनाव लड़ेंगे। दिग्विजय के भतीजे प्रियव्रत सिंह को भी टिकट मिला है| 

भूरिया की भतीजी और बेटे को टिकट, पचौरी फिर मैदान में 

सांसद कांतिलाल भूरिया की भतीजी कलावती भूरिया और बेटे विक्रांत भूरिया को झाबुआ से टिकट दिया गया है । राजसभा सांसद विजयलक्ष्मी साधो को भी चुनाव मैदान में उतारा गया है । उसके साथ साथ पूर्व सांसद सज्जन सिंह वर्मा भी चुनाव लड़ेंगे। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सुरेश पचौरी को भोजपुर से टिकट दिया गया है। भाजपा छोड़ कांग्रेस में आए अभय मिश्रा और संजय शर्मा को भी टिकट दिया गया है , वह तेंदूखेड़ा से ही चुनाव लड़ेंगे। कांग्रेस ने अपने लगभग सभी पूर्व विधायकों को टिकट दिया है|


जयस प्रमुख को कांग्रेस से टिकट 

जयस से कांग्रेस का समझौता हो गया है। मनावर से जयस प्रमुख डॉ. हीरालाल अलावा को कांग्रेस ने टिकट दिया है|  जयस ने इंदौर-5 से भी टिकट मांग रहा है| वहीं यूथ कांग्रेस अध्यक्ष कुणाल चौधरी कालापीपल से मैदान में उतारा है| टिमरनी मे चाचा भतीजे का मुकाबला होगा। यहां बीजेपी के प्रत्याशी संजय शाह वर्तमान भाजपा विधायक और कांग्रेस से उनका भतीजा अभिजीत शाह मैदान में हैं| वहीं हरदा में आरके दोगने को फिर मौका मिला है|  मप्र NSUI के प्रदेश अध्यक्ष विपिन वानखेड़े को आगर विधानसभा से कांग्रेस प्रत्यशी घोषित किया गया है|  जावरा से महेन्द्र सिह कालूखेङा के भाई के के सिह कालूखेङा को टिकिट मिला है |छतरपुर से आलोक चतुर्वेदी, बिजावर से शंकर प्रताप सिंह मुन्ना राजा, महाराजपुर से नीरज दीक्षित और चंदला से हरिप्रसाद प्रसाद अनुरागी को प्रत्याशी बनाया गया है|   


कांग्रेस के 155 प्रत्याशियों की सूची देखने के लिए यहां क्लिक करें