कांग्रेस ने व्यापमं के आरोपी को बनाया महासचिव, मचा हड़कंप

भोपाल।  चुनाव परिणाम से पहले मध्य प्रदेश कांग्रेस ने व्यापमं घोटाले के आरोपी संजीव सक्सेना को बड़ी जिम्मेदारी सौंपी है। कांग्रेस ने संजीव को प्रदेश महासचिव बनाया है। कांग्रेस उपाध्यक्ष चंद्रप्रभाष शेखर ने इस सम्बन्ध में आदेश जारी किया है। सक्सेना को कांग्रेस द्वारा महासचिव बनाए जाने के बाद सवाल खड़े हो रहे है। बता दे कि बीते दिनों टिकट बंटवारे के दौरान कांग्रेस से टिकट ना मिलने पर संजीव ने निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलान किया था, हालांकि बाद में पार्टी नेताओं की समझाइश के बाद अपना नामांकन वापस ले लिया था। 

बता दे कि संजीव सक्सेना व्यापमं फर्जीवाड़ा मामले में आरोपी हैं और व्यापमं घोटाले में उन्हें जेल भी भेजा गया था, लेकिन बाद में हाईकोर्ट से जमानत मिलने के बाद वे जेल से बाहर आए। इस बार विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की तरफ से चुनाव लड़ना चाह रहे थे, लेकिन कांग्रेस ने टिकट नहीं दिया तो उन्होंने निर्दलीय लड़ने की ऐलान कर दिया था। हालांकि दिग्विजय सिंह से मिलने के बाद उन्होंने चुनाव नहीं लड़ा था। ऐसे में हमेशा भाजपा को व्यापमं घोटाले को लेकर घेरने वाली कांग्रेस अब खुद विवादों मे घिरती नजर आ रही है। भाजपा के साथ साथ कांग्रेस में भी आवाज उठने लगी है। 

सड़क से लेकर कोर्ट तक व्यापमं की लड़ाई लड़ने वाली कांग्रेस में व्यापमं से जुड़े चेहरों की एंट्री पर पहले भी बवाल हो चूका है। इंदौर में गुलाब सिंह किरार को कांग्रेस में शामिल कराने के बाद पार्टी को सफाई देनी पड़ी थी और यू टर्न लेते हुए इस फैसले से इंकार किया गया था। वहीं टिकट नहीं मिलने से नाराज नेताओं को पार्टी द्वारा पद देकर संतुष्ट किया जा रहा है, सैंकड़ों लोगों को पद बांटे गए हैं। 



"To get the latest news update download the app"