पति की प्रताड़ना से परेशान लैब असिस्टेंट ने किया सुसाइड, दो पन्नों के नोट में लिखी दर्द भरी दास्तान

इंदौर। मध्य प्रदेश के इंदौर में एक लैब असिस्टेंट ने फांसी लगाकर आत्म हत्या कर ली| पुलिस को युवक के पास से एक सुसाइड नोट मिला जिसमे आत्महत्या के पीच पत्नी की प्रताड़ना को कारण बताया है| \r\n \r\nप्राप्त जानकारी के अनुसार घटना धार रोड स्थित जगत गुरु दत्तात्रय कॉलेज ऑफ टेक्नोलॉजी की है। यहां तीन वर्ष से लैब असिस्टेंट के पद पर कार्यरत ब्रजेश पिता आर एन श्रीवास INSERT INTO [dbo].[wp_posts] VALUES (30) निवासी राज नगर ने रस्सी का फंदा लगाकर आत्महत्या की है। उसकी जेब से पुलिस को एक सुसाइड नोट मिला है। टीआई ने बताया सुसाइड नोट के आधार पर जांच की जा रही है।\r\n \r\nसुसाइड नोट में लिखा है 19 सितंबर को मैं अपनी जीवन लीला समाप्त कर रहा हूं। मैं उन सभी लोगों से क्षमा चाहता हूं जिनका कभी दिल दुखाया हो। मम्मी, पापा, कान्हा, परी, सुषमा, राहुल और सुमन दी मुझे माफ करना, मैं आत्महत्या नहीं करता। मैं अपनी लाइफ से खुश था। 13 अप्रैल 2013 को मेरा विवाह निशा से हुआ। निशा मेरे घर में मम्मी, पापा, मेरे भाई बहन को बुरा भला कहती और मां पर हाथ उठाने लगी थी। इसका विरोध किया तो मेरा साला गौरव, सास प्रभा देवी से बात की, लेकिन वे भी निशा का ही पक्ष लेते रहे। वे मुझे मेरे मम्मी-पापा व परिवार से अलग करना चाहते हैं। जब मैंने मना किया तो सभी मिलकर मुझे दहेज प्रताड़ना और घरेलू हिंसा का केस लगवाकर पूरे परिवार को थाने में बंद करवाने की धमकियां देने लगे। मुझे मेरे ससुराल वाले प्रतिदिन कुछ न कुछ आरोप लगाते थे। मेरी पत्नी व साला मुझे मानसिक रूप से प्रताड़ित करते हैं। इसलिए जीना नहीं चाहता और आत्महत्या कर रहा हूं। हमारे कानून में महिला को घरेलू हिंसा करने के लिए सजा का प्रावधान हो तो निशा, गौरव व प्रभा देवी को सजा मिलनी चाहिए। मेरे मरने के बाद निशा को मेरे घर पर मेरे मम्मी-पापा के साथ न रखा जाए तथा मेरी बेटी परी की परवरिश के लिए मेरी मम्मी को नियुक्त किया जाए। ऐसी मेरी अंतिम इच्छा है।\r\n अपने लाडले बेटे के शव को देखकर पिता आरएन श्रीवास फूट फूट कर रो पड़े और बोले- बूढ़े कंधे पर जवान बेटे की अर्थी का बोझ कैसे ऊठाऊंगा। छोटा भाई राहुल भी बदहवास था। बहन सुषमा ने बताया कि भाई ब्रजेश पिछले दो सालों से पत्नी निशा से प्रताड़ित था। वह मारपीट भी करती थी। दो दिन पूर्व भाई को भाभी ने चांटा मारा था और मोबाइल फेंक दिया था। इससे भी वह आहत था। भाई के मौत के जिम्मेदारों पर सख्त कार्रवाई हो।

"To get the latest news update download the app"