अति आत्मविश्वास से हारी कांग्रेस, सर्जिकल स्ट्राइक ने कर दी सर्जरी

मो. अनीश तिगाला\r\nअनूपपुर। शहडोल संसदीय उपचुनाव में भाजपा की 60,383 मतो से जीत हुई है और इस जीत के साथ ही प्रदेश में चल रहे जनकल्याणकारी योजनाओं और विकास कार्याे की जीत है साथ ही इस जीत ने यह भी तय कर दिया कि देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के फैसले के पक्ष में इस संसदीय क्षेत्र की जनता है इसका परिणाम है कि भाजपा के प्रत्याशी ज्ञान सिंह को 4,81,398 वोट मिले और कांग्रेस प्रत्याशी हिमाद्री सिंह को 4,21,015 मत मिले और 60,383 मतो से भाजपा की जीत हुई। \r\n\r\nगृहग्राम में मिली निराशा \r\nकांग्रेस को जो उम्मीद मतो को लेकर पुष्पराजगढ़ विधानसभा से थी वहां उम्मीदो पर पानी फिर गया। यहां पर हिमाद्री को उम्मीद थी कि वह भाजपा से कम से कम 25 से 30 हजार मतो से आगे रहेगी लेकिन वह महज 53,686 मत ही प्राप्त कर सकी। वहीं भाजपा को 45,038 मत मिले इस तरह से वह केवल 8, 648 मतो से आगें रही। इतने कम अंतरालो से अपने ही गृहग्राम में कांग्रेस का लीड लेना ही निराषा दिख रहा था। जबकि हिमाद्री के जीवन का यह पहला चुनाव था राजनीति उन्हें विरासत में मिली है यह एक अलग बात है। \r\n\r\nअति आत्मविश्वास बनी पराजय का कारण \r\nसत्ता में काबिज भाजपा प्रत्याशी के तुलना में हिमाद्री सिंह शुरूआती दौर में काफी भारी पड़ रही थी पर धीरे-धीरे कांग्रेस की गुटबाजी और अकुशल नेतृत्व ने हिमाद्री के जीत में रोड़ा बनने का काम किया। कांग्रेस को अति आत्म विष्वास जीत को लेकर हो गया था। वह इस लोकसभा को लेकर करके अति उत्साहित थी कि हम इस लोकसभा उपचुनाव को जीत रहे है। यहां तक कि उनके बड़े स्टार प्रचारक 13 नवम्बर से ही अपने घर वापस हो गये थे। वहीं कांग्रेस की तुलना में प्रदेष के मुख्यमंत्री दिन-रात एक करके 17 नवम्बर तक अपने सभाएं की। कुल मिलाकर यह माना जाये कि कांग्रेस के स्टार प्रचारक ही कांग्रेस को ले डूबे।\r\n\r\nगोंड़वाना की अहम भूमिका\r\nहम तो डूबेगें सनम, तुमको भी ले डूबेंगे की तर्ज पर कही न कहीं गोड़वाना गणतंत्र पार्टी के प्रत्याशी ने कांग्रेस को ले डूबा कांग्रेस से अलग होकर नये पार्टी बनाने वाले छ.ग. के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने जब हीरा सिंह मरकाम के पक्ष में प्रचार-प्रसार किया तो यह बात तो समझ में आ गई थी कि अब कांग्रेस की नईया डूबने वाली है और हुआ भी ऐसा ही, क्योंकि गोड़वाना गणतंत्र के प्रत्याशी हीरा सिंह मरकाम को 55,306 मत मिले जो कांग्रेस की नईया डूबाने के लिए पर्याप्त है। क्योंकि गोंड़ समाज के यह वोट जो गोड़वाना को मिले ये लगभग कांग्रेस के पराम्परागत वोट थे।\r\n\r\nसर्जिकल स्ट्राइक ने कर दी कांग्रेस की सर्जरी\r\nबीते समय प्रधानमंत्री और सेना के नेतृत्व में हुए सर्जिकल स्ट्राइक से निश्चित रूप से देश की जनता के मन में भाजपा और नरेन्द्र मोदी के प्रति स्नेह बढ़ा है और यही स्नेह मतो के रूप में परिवर्तित होकर भाजपा को जीत दिलाने में सहायक हुआ है।\r\n\r\nनोटबंदी भी ना बचा सकी कांग्रेस को\r\nकांग्रेस के तमाम बड़े नेता आए तो थे प्रचार करने पर प्रचार-प्रसार की जगह पर्यटन पर इनका दिल दिमाग ज्यादा लगा जिसका खामियाजा कांग्रेस को हार के रूप में झेलना पड़ा, तमाम बड़े नेताओं ने नोटबंदी के फैसले को चुनाव को प्रमुख मुद्दा भी कांग्रेस को जीत नहीं दिला पाया। \r\n\r\nहिमाद्री छोटी बहन...\r\nचुनाव परिणाम आने के बाद प्रभारी मंत्री संजय पाठक ने कहा कि यह जीत क्षेत्र की सम्पूर्ण कार्यकर्ताओ की जीत है साथ ही मुख्यमंत्री विकास कार्याे की जीत है। संसदीय क्षेत्र की जनता ने ज्ञान सिंह को सासंद में भेजकर प्रमाणित कर दिया कि प्रधानमंत्री के द्वारा किये जा रहे सारे काम जनता के हित में है। हिमाद्री सिंह के बारे में उन्होने कहा कि कांग्रेस प्रत्याशी हिमाद्री सिंह के प्रति उनकी सहानुभूमि है और वे मेरी छोटी बहन है।\r\n\r\nनिर्वाचन प्रमाण पत्र हुए वितरित\r\nलोक सभा उप निर्वाचन 2016 शहडोल संसदीय क्षेत्र 12INSERT INTO [dbo].[wp_posts] VALUES (अजजा) के लिए संपन्न हुई मतगणना में सांसद पद के लिए निर्वाचित भाजपा पार्टी के उम्मीदवार ज्ञान सिंह को शहडोल संसदीय क्षेत्र के रिटर्निंग ऑफीसर एवं कलेक्टर अनूपपुर अजय शर्मा ने निर्वाचन प्रमाण पत्र प्रदान किया। इस अवसर पर भारत निर्वाचन आयोग द्वारा नियुक्त सामान्य प्रेक्षक अनिल मेश्राम विशेष रूप से उपस्थित थे। प्रमाण-पत्र वितरण के दौरान बड़ी संख्या में उनके समर्थक उपस्थित रहे।\r\n\r\nयह रही प्रत्याशी मतो की संख्या\r\nशहडोल संसदीय क्षेत्र से कुल 17 उम्मीदवार चुनाव मैदान में थे। भाजपा पार्टी के उम्मीदवार ज्ञान सिंह को 481398 मत प्राप्त हुए। निकटतम उम्मीदवार भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी की सुश्री हिमाद्री दलवीर सिंह को 421015 मतं प्राप्त हुए। गोंड़वाना गणतंत्र पार्टी के उम्मीदवार हीरा सिंह मरकाम को 55306 मत, भारतीय कम्युनिष्ट पार्टी के उम्मीदवार परमेश्वर सिंह को 21143 मत, भा0 श.चे.पार्टी के उम्मीदवार अमित पड़वार को 14398 मत, अपना दल पार्टी के उम्मीदवार सज्जन सिंह परस्ते को 3365 मत, लोक जन शक्ति पार्टी पार्टी के उम्मीदवार कृष्णपाल सिंह पवेल को 2021 मत, आई0 ई0डे0 पार्टी के उम्मीदवार कैलाश कोल को 2846 मत, निर्दलीय उम्मीदवार कोमल बैगा को 3902 मत, अनुराधा पाटिले को 3456 मत, विमल बैगा को 11851 मत, शेषराम बैगा को 5687 मत, शिवचरण पाव को 17198 मत, पारवती सिंह मरावी को 7228 मत, अमरपाल सिंह को 3037 मत, झमक लाल वनवासी को 4711 मत, राम सुन्दर बैगा को 9782 मत प्राप्त हुए। इनमें से कोई नहींINSERT INTO [dbo].[wp_posts] VALUES (नोटा) में 15066 मत डाले गए। रिकार्ड किए गए डाक मतपत्र निरंक रहे। डाले गए कुल विधिमान्य मान्य मतों की संख्या 1068344 रही।\r\ngyaan-singh

"To get the latest news update download the app"