Breaking News
व्यापमं का जिन्न फिर बाहर: दिग्विजय ने शिवराज, उमा समेत 18 के खिलाफ किया परिवाद दायर | चुनाव लड़ने का इंतजार कर रहे बीजेपी के 70 विधायकों में मचा हड़कंप! | अधिकारी की कलेक्टर को नसीहत, 'आपकी कार्यशैली पर लज्जा आती है, तबादला करा लें' | दागियों का कटेगा टिकट, साफ-सुथरी छवि के नेताओं को चुनाव में उतारेगी भाजपा | फ्लॉप रहा कांग्रेस का 'घर वापसी' अभियान, सिर्फ कार्यकर्ता लौटे, नेताओं ने बनाई दूरी | शिवराज कैबिनेट की बैठक ख़त्म, इन प्रस्तावों पर लगी मुहर | सीएम चेहरे को लेकर सोशल मीडिया पर जंग, दिग्विजय भड़के | मुख्यमंत्री के काफिले पर पथराव, महिदपुर- नागदा के बीच की घटना, पुलिस वाहन के कांच फूटे | अब भोपाल में राहुल ने फिर मारी आंख, वीडियो वायरल | एमपी की 148 सीटों पर खतरा, बिगड़ सकता है बीजेपी का चुनावी गणित |

कांग्रेस सिर्फ बात करती है, लेकिन हमारी सरकार ने असल में काम किया है : शिवराज

होशंगाबाद।

आज प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज होशंगाबाद में आयोजित तेंदूपत्ता संग्राहक और असंगठित श्रमिकों के सम्मेलन में पहुंचे। यहां उन्होंने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि इसके साथ ही उन्होंने कहा कि 10 जून को प्रदेश के किसानों को गेंहू और धान पर प्रोत्साहन राशि का आवंटन किया जाएगा और 13 जून को मुख्यमंत्री जनकल्याण योजना के हितलाभ हितग्राहियों को सौंपे जाएंगे।वही मुख्यमंत्री शिवराज ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि हमने गरीबी हटाने के लिए काम किया।कांग्रेस तो सिर्फ बात करती रही।परंतु शिवराज ने असल में काम किया हैं।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के बच्चे नए आसमान में नई ऊंचाइयों को छूएँ इसलिए उन्हें शिक्षित बनाने का संकल्प सरकार ने लिया है। गरीब बच्चों की प्राथमिक शिक्षा से ले कर उच्च शिक्षा को सुनिश्चित करने के लिए मुख्यमंत्री जनकल्याण योजना में प्रावधान किया है।गरीबों के लिए मुख्यमंत्री श्रमिक कल्याण योजना  बनाई है। मध्यप्रदेश की ज़मीन पर जन्म लेने वाले हर गरीब को रहने की ज़मीन का मालिक बनाया जायेगा। जो गरीब घास-फूस की झोपड़ी में रहते हैं, उन्हें 4 साल में पक्का मकान दे दिया जाएगा।इसी के साथ सीएम ने हितग्राहियों को आवासीय पट्टों का वितरण भी किया।

उन्होंने कहा कि गर्भवती श्रमिक बहनों को 6 से 9 माह की अवधि में 4 हज़ार और प्रसव के बाद 12 हज़ार रुपए देंगे, जिससे वे आराम कर सकें और पौष्टिक भोजन से सेहत सुधर सके ताकि उनके शिशु स्वस्थ हों।गरीब भाइयों, बहनों आपको बिजली के बड़े-बड़े बिल नहीं भरने होंगे। सरकार ने तय किया है कि अब जो केवल बल्ब जलाएगा, पंखा और टीवी चलाएगा उसे फ्लैट रेट पर केवल 200 रुपए/माह बिजली का बिल देना होगा। 


  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...