बंद के बीच पटवारी ले रहा था रिश्वत, लोकायुक्त ने रंगेहाथों दबोचा, मचा हड़कंप

होशंगाबाद।

एक तरफ एससी-एसटी एक्ट के विरोध बंद का असर देखने को मिल रहा है, सड़कों पर सन्नाटा पसरा हुआ है, स्कूल-पेट्रोल पंप बंद है, व्यापारियों की दुकानों पर ताले लगे हुए है, चप्पे-चप्पे पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है, एमपी हाईअलर्ट पर है, इसी बीच लोकायुक्त की टीम ने एक पटवारी को पांच हजार की रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार किया है।आरोप है कि पटवारी ने जमीन के रिकॉर्ड दर्ज करने के एवज में रिश्वत की मांग की थी।

दरअसल, मामला होशंगाबाद जिले के पिपरिया विधानसभा का है। यहां पिपरिया ब्लॉक के पटवारी जितेंद्र ठाकुर ने खेरा निवासी अशोक पटेल और उसके दोस्त से कंप्यूटर में रिकार्ड चढ़ाने के लिए पांच हजार की रिश्वत मांग की थी।इसके शिकायत उन्होंने लोकायुक्त से की। टीम ने योजना बनाकर आज दोपहर करीब 3  बजे छापा मारकर पटवारी को रंगे हाथों गिरफ्तार किया।पटवारी को पकडऩे के बाद जब केमिकल से हाथ धुलाए गए तो उसके हाथ गुलाबी हो गए। कार्रवाही के दौरान डीएसपी लोकायुक्त नवीन अवस्थी के साथ तीन निरीक्षक और अन्य दल मौजूद रहे। लोकायुक्त ने आरोपी पटवारी के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है।लोकायुक्त की कार्रवाही के बाद गुरुवार को पूरी तहसील में हड़कंप मचा रहा।

"To get the latest news update download tha app"