अपराधियों के खिलाफ सिंघम एसआई का एक्शन, 13 साल से फरार 4 आरोपियों को धर दबोचा

होशंगाबाद|  जिले के पुलिस कप्तान अरविंद सक्सेना द्वारा जिले के समस्त थानों में लंबित स्थायी वारंटियों की गिरफ्तारी के लिए एक जुलाई से 1 माह की विशेष मुहीम चलाई जाकर अधिक से अधिक स्थायी वारंटियों की गिरफ्तारी का आदेश समस्त अनु.विभागीय अधिकारी(पुलिस) व समस्त थाना प्रभारियों को दिये गये हैं। पुलिस अधीक्षक के निर्देश मे इटारसी एसडीओपी अनिल शर्मा द्वारा इटारसी अनुभाग के समस्त थाना प्रभारियों से लंबित स्थायी वारंटियों की समीक्षा की जाकर थाना स्तर पर टीम गठित कर स्थायी वारंटियों की गिरफ्तारी के निर्देश दिये गये हैं । निर्देशों के परिपालन में तेज तर्रार छवि के पुलिस अफसर पथरौटा थाना प्रभारी गिरीश दुबे ने बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है| 

गिरीश दुबे द्वारा थाना पथरौटा के एएसआई आर,डी, झाड़े एएसआई हेड कांस्टेबल कॉस्टेबल टिल्लू,सैनिक संजय चौरे की टीम ने स्थायी वारंटियों की तलाश के लिए पुलिस टीम गठित की गई | गठित टीम द्वारा अपनी सूझबूझ, मुखबिर तंत्र की मदद से ग्राम जमानी थाना पथरौटा के 13 वर्षों से फरार ठगी व 25 आर्म्स एक्ट के पारदी समाज के 4 स्थायी वारंटियों को प्रथक-प्रथक स्थानों से गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है | 

आरोपियों के नाम विनोद पिता एके चंद पारदी उम्र-३२ वर्ष निवासी, ग्राम जमानी हाल-ग्राम पांजरा थाना होशंगाबाद, अनहोनचंद उर्फ गद्दार पारदी पिता शेख चंद पारदी उम्र 35 वर्ष निवासी ग्राम जमानी हाल-ग्राम नोहर थाना होशंगाबाद ।क्रेश सिंह पिता रिखी चंद पारदी उम्र 45 वर्ष निवासी गृष्म जमानी हाल ग्राम जैतपुर थाना डोलरिया पीसर सिंह पिता मिशन सिंह पारदी उम्र 50 वर्ष निवासी ग्राम जमानी हाल थाना सिवनी होशंगाबाद हैं, सभी आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है ।

आपको बता दें की होशंगाबाद के पथरौटा थाना प्रभारी गिरीश दुबे इससे पहले रायसेन जिले के इंडस्ट्रीज एरिया सतलापुर (मंडीदीप), उमरावगंज, देवरी जैसे थानों में रहकर बड़ी बड़ी वारदातों में सफलता हासिल कर आरोपियों को हवालात के पीछे पहुंचा चुके हैं| थाना प्रभारी गिरीश दुबे की कार्यवाहियों से अवैध कारोबारियों में हड़कंप मच जाता है गिरीश दुबे को सिंघम के नाम से भी जाना जाता है ।