Breaking News
अब मंत्री-परिषद के सदस्य उतरेंगें सड़कों पर, जनता को समझाएंगे 'सड़क सुरक्षा' के नियम | 28 सितंबर को फिर भारत बंद का ऐलान, इसके पीछे ये है वजह | 12वीं पास के लिए सरकारी नौकरी पाने का सुनहरा मौका, जल्द करें अप्लाई | शर्मनाक : युवक की हत्या के शक में महिला को निर्वस्त्र कर घुमाया, पथराव-आगजनी, 8 पुलिसकर्मी सस्पेंड | शिवराज कैबिनेट की बैठक खत्म, इन अहम प्रस्तावों को मिली मंजूरी | मॉर्निंग वॉक के दौरान EOW इंस्पेक्टर की मौत, हार्ट अटैक की आशंका | अखिलेश की नजर अब मप्र पर, 3 सितंबर को आएंगें इंदौर | अटल जी के निधन पर पूरे देश में शोक और भाजपा नेता निकाल रहे डीजे यात्रा : कांग्रेस | VIDEO : मोबाईल टॉवर पर चढ़ा शराबी, मचा रहा हंगामा, नीचे उतारने में जुटी पुलिस | चुनावी साल में शिवराज सरकार का मास्टर स्ट्रोक, कुपोषण मिटाने खर्च करेगी 57 हजार करोड़ |

महिला दिवस पर मॉल में 9 साल की मासूम से दरिंदगी करने वाले आरोपी को 14 साल की सजा

इंदौर | महिला दिवस के दिन इंदौर के ट्रेजर आइलैंड मॉल में मासूम के साथ दरिंदगी कर प्रदेश को शर्मसार करने वाले आरोपी को कोर्ट ने 14 साल की दोहरी सजा सुनाई है| आरोपी ने 8 मार्च को ट्रेजर आईलेंड माल के गेम जोन में 9 साल की मासूम के साथ दुराचार किया था| जिसके बाद तुकोगंज थाना पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लेकर उसके साथ दुराचार और पास्को एक्ट की विभिन्न धाराओं  में प्रकरण दर्ज किया था| 

जानकारी के अनुसार जानकारी के मुताबिक पंचम अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश वर्षा शर्मा की कोर्ट ने नाबालिग से दुराचार के मामले में आरोपी अर्जुन राठौर को दुष्कर्म और पॉक्सो एक्ट के तहत 14-14 साल की सजा सुनाई है| सजा सुनने के बाद आरोपी अर्जुन राठोर  कोर्ट रूम में रोने लगा| वहीं फैसले के दिन आरोपी के परिजन कोर्ट नहीं पहुंचे| 

घटना अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस आठ मार्च की है, जब शहर के बाहरी इलाके से इंदौर घुमने पहुंचे एक परिवार के बच्ची की जिद थी कि उसे गेम जोन घूमने जाना है| बच्ची अपने भाई  के साथ वहा खेलने पहुँची थी, आरोपी अर्जुन के मनसूबे पहले से ही गलत थे, आरोपी अर्जुन ने पीडिता के भाई को बाहर ही मास्क लगाकर बैठा दिया और बच्ची को एकांत में ले गया| जहां उसके साथ गलत हरकत को अंजाम दिया|  तुकोगंज थाना पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लेकर उसके साथ दुराचार और पास्को एक्ट की विभिन्न धाराओं  में प्रकरण दर्ज किया था|  मामले में अप्रैल माह में पुलिस  ने चालन पेश किया, चालान पेश होने के लगभग 120 दिनों के भीतर आरोपी को न्यायालय ने 14 - 14 साल की सश्रम कारावास की सजा सुनाते हुए आरोपी पर दो हजार रूपये अर्थदंड की भी सजा का एलान किया है | इन दिनों बच्चियों के साथ दुराचार के मामलो में जल्द से जल्द फैसले आने के कारण आरोपियों में भी भय का माहौल है, हालाँकि ऐसी घटनाएं रुक नहीं रही हैं|   

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...