शिवमय हुआ इंदौर, कावड़ यात्रा में दिखी 'स्वच्छ भारत' की झलक

इंदौर| सावन के दूसरे सोमवार भोले के भक्तों के मुख से निकले बम भोले के स्वरों से पूरा शहर गूंजा उठा| एक तरफ जहां शिवलयों में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ी वही शहर में आज  स्वच्छ भारत स्वस्थ भारत के संकल्प के साथ बाणगंगा से भूतेश्वर महादेव मंदिर तक कावड़ यात्रा निकली, जिसमें शिव दरबार और स्वच्छ भारत का संदेश देती हुई झांकी आकर्षण का केंद्र थी, साथ ही स्वच्छता शुल्क की रसीद भी निगम से कटवाई। कांवडयात्रा में शामिल हजारों कांवड़िए पूरे यात्रा मार्ग में भोले की भक्ति में चूर होकर, भजनों की धुन पर नाचते गाते चले| 

शिवमय हुआ इंदौर, सफाई के लिए विशेष पहल 

शिवभक्तों ने देश के सबसे स्वच्छ शहर इंदौर की स्वछता को बनाये रखने के लिए पहला की और स्वच्छता शुल्क की रसीद भी निगम से कटवाई। जानकारी देते हुए श्री राम सेवा समिति के संयोजक एवं एमआईसी सदस्य पार्षद संतोष सिंह गौर ने बताया कि श्रावण के दूसरे सोमवार को  कावड़ यात्रा में बाणगंगा क्षेत्र की 250 से ज्यादा कॉलोनियों व बस्तियों की आठ हजार मातृ शक्तियां शामिल हुई।

हाथों में केसरिया ध्वज, झांकी में दिखी स्वच्छ भारत की झलक 

यात्रा में  पवित्र नदियों के जल से मातृ शक्तियां भगवान भूतेश्वर महादेव का जलाभिषेक किया।  बाणेश्वरी कुंड से बाणगंगा, मरीमाता सदर बाजार ,इमली बाजार, जिंसी,बड़ा गणपति होते हुए भूतेश्वर महादेव मंदिर पंहुचेगी यात्रा में शिव दरबार झांकी के साथ दो दर्जन से अधिक युवा हाथों में केसरिया ध्वज लिए चलें।  वहीं स्वच्छ भारत की झांकी रहेगी, जो सभी के आकर्षण का केंद्र होगी। यात्रा के बाद खिचड़ी प्रसाद का वितरण किया जाएगा। प्रमुख रूप से सत्यनारायण सत्तन ,उमा शशि शर्मा ,कृष्ण मुरारी मोघे ,धर्मु ठाकुर ,मनीष मग्रे, प्रदीप साईराम,अंकित राठौर मोनु पारिख ,नगेन्द्र सिंह चौहान गिरधारी लाल परमार ,रमेश मोहिते मौजूद रहे ।