पुलवामा हमले के बाद भारत सरकार का बड़ा कदम, अब पानी को तरसेगा पाकिस्तान

नई दिल्ली। पुलवामा हमले के सात दिनों बाद भारत सरकार ने पाकिस्तान को लेकर बड़ी कदम उठाया है। भारत और पाकिस्तान के बीच की तीन नदियों का पानी अब मोड़कर यमुना में लाया जाएगा। अभी तक भारत अपने हिस्से के पानी का भी इस्तेमाल नहीं कर पा रहा था, लेकिन अब उसका इस्तेमाल किया जाएगा। यह ऐलान आज केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने किया है। उनकी इस घोषणा ने पाकिस्तान से बदले को लेकर कई सवाल खड़े कर दिए हैं। 

दरअसल, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी बागपत में यमुना के वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट का शिलान्यास करने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि पाकिस्तान जाने वाली तीन नदियों के पानी को यमुना में लाया जाएगा। इसके लिए तीन प्रोजेक्ट तैयार किए जा चुके हैं।

सिंधु जल समझौता बना बाधा...

पाकिस्तान जाने वाले पानी को रोकने के लिए सिंधु जल समझौता बाधा बन सकता है. क्योंकि भारत के अधिकारी में आने वाली तीन नदियों का पानी सिंधु जल समझौते के तहत रोका नहीं जा सकता. पहले हुए भारत पाक युद्धों के दौरान भी यह समझौता प्रभावी रहा था.



"To get the latest news update download the app"