चुनावी बेला में बीजेपी को याद आई राजमाता, प्रदेश भर में मनाएगी जन्म-शताब्दी समारोह

जबलपुर| भारतीय जनता पार्टी आगामी 12 अक्टूबर से राजमाता स्व. विजयाराजे सिंधिया स्मृति जन्म शताब्दी वर्ष समारोह मनाने जा रही है। इसके लिए पूरे प्रदेश में एक साथ कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे हैं जिसकी तैयारी भाजपा ने लगभग पूरी भी कर ली है। जबलपुर में आज भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने पत्रकारों से रूबरू होते हुए कहा कि मुख्य समारोह ग्वालियर में आयोजित किया जाएगा जिसमे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह बतौर मुख्य अतिथि शामिल होंगे। इसके अलावा प्रदेश के और जिलों में होने वाले कार्यक्रमों में केन्द्रीय मंत्री उमा भारती, स्मृति ईरानी, रीता बहुगुणा जोशी,साध्वी निरंजना देवी, सरोज पाण्डेय,  विजया राहतकर शामिल सहित कई दिग्गज नेता शामिल होंगे।  जबलपुर में इस कर्यक्रम में शामिल होने 12 अक्टूबर को दिल्ली से भाजपा की सांसद और वरिष्ठ अधिवक्ता मीनाक्षी लेखी बतौर मुख्य अतिथि शामिल होंगीं। 

प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह की माने तो स्वर्गीय राजमाता सिंधिया ने राजमहल त्याग कर आम लोगों के बीच में काम किया है। ग़रीबों के उत्थान के लिए किये गए कार्यों को याद करने के लिए ही यह स्मृति समारोह मनाया जा रहा है।राजमाता स्मृति जन्म शताब्दी वर्ष समारोह के राजनैतिक मायने भी निकाले जा रहे हैं। दरअसल भाजपा राजमाता स्मृति जन्म शताब्दी वर्ष समारोह को आयोजित कर ग्वालियर चम्बल संभाग के उन लोगो के बीच में जगह बनाना चाहती है जो कि राजमाता से बेहद लगाव रखते हैं। इसके साथ ही भाजपा राजमाता को सम्मान देने के बहाने प्रदेश की जनता को यह सन्देश भी देना चाहती है कि वह अपने वरिष्ठ नेताओं और महिलाओं के प्रति आदर का भाव रखती है। जाहिर है भाजपा एक तीर से दो निशाने लगा रही है और इस स्मृति जन्म शताब्दी वर्ष समारोह के माध्यम से चुनावी फ़ायदा उठाने का प्रयास कर रही है।