डिप्लोमा इंजीनियर्स का जलसत्याग्रह, पानी में खड़े होकर किया प्रदर्शन

जबलपुर| चुनावी साल में  हर विभाग के कर्मचारियों को अपनी मांगें पूरी होने की उम्मीद है, जिसके चलते कर्मचारियों ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है| डिप्लोमा इंजीनियर्स एसोसिएशन ने सरकार के सामने अपनी मांगे रखकर उन्हें स्वीकार करने की चेतावनी दी है| करीब 16 विभाग के इंजीनियर संगठन ने आज नर्मदा नदी के गवरीघाट में जल सत्याग्रह कर अपनी मांगों को सरकार के सामने रखा|

इंजीनियर्स एसोसिएशन की माने तो सबसे पहले उन्हें अनिवार्य पदोन्नति दी जाए क्योंकि अब भर्ती की जो प्रक्रिया है वो गलत है अब सब इंजीनियर पद से भर्ती हुआ व्यक्ति सब इंजीनियर पद से ही रिटायर हो रहा है, साथ ही ग्रेड पे को लेकर भी मध्य प्रदेश में भारी अनियमितता है!प्रदेश के पड़ोसी राज्यो में जहां इंजीनियरो के पे 4200 से 4800 से का है यो वही मध्यप्रदेश में 3200 का ग्रेड पे दिया जा रहा है!आज के अपने जल सत्याग्रह में संगठन ने चुनावी साल में सरकार को चेतावनी दी है कि 16 मई तक सरकार उनकी सभी माँगो में ध्यान दे अन्यथा 17 मई से सभी विभाग के इंजीनियर अपनी अपनी सेवाओं को बाधित कर देंगे !ऐसे में पानी की सप्लाई से ले करके सड़के बनना,पुल बनने जैसे तमाम काम शामिल है|