Breaking News
जब मध्य प्रदेश की मंत्री को महंगा पड़ा था अंबानी का विरोध | MP: कांग्रेस-बसपा गठबंधन की संभावना बरकरार, हो सकता है गुप्त समझौता | SC-ST एक्ट पर BJP में फूट: शिवराज के ऐलान से नाराज उदित राज, दे डाली यह नसीहत | दर्दनाक हादसा: दो कारों की भिड़ंत में जनपद सीईओ समेत 4 लोगों की मौत | कैसे पूरी होगी शिवराज की यह घोषणा | कांग्रेस की उम्मीदों पर फिर पानी, बसपा ने जारी की प्रत्याशियों की पहली सूची | डंपर काण्ड: CM के खिलाफ याचिका खारिज, SC ने कहा-'चुनाव लड़ना है तो मैदान में लड़ें, कोर्ट में नहीं' | बीजेपी विधायक का आरोप, सवर्ण आंदोलन के लिए हो रही विदेशी फंडिंग | व्यापमं का जिन्न फिर बाहर: दिग्विजय ने शिवराज, उमा समेत 18 के खिलाफ किया परिवाद दायर | चुनाव लड़ने का इंतजार कर रहे बीजेपी के 70 विधायकों में मचा हड़कंप! |

मानहानि मामला : दिग्विजय की याचिका पर उमा भारती को नोटिस

भोपाल/जबलपुर

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह की याचिका पर हाईकोर्ट ने केंद्रीय मंत्री उमा भारती काे नोटिस जारी किया है।हाईकोर्ट ने तीन हफ्तों में इसका जवाब मांगा है। जस्टिस एसके पालो की बेंच ने यह नोटिस मानहानि के एक मामले में बचाव पक्ष के गवाह का पुन: परीक्षण कराए जाने की मांग को लेकर दायर याचिका पर दिया है। याचिका की अगली सुनवाई 6 अगस्त को नियत की गई है।

दरअसल, मामला 14  साल पुराना है। जब 2003 के विधानसभा चुनाव के दौरान उमा भारती ने दिग्विजय पर 1500 करोड़ के घोटाले का आरोप लगाया था। दिग्विजय ने उमा भारती पर  भोपाल अदालत में मानहानि का मुकदमा दायर किया था।लेकिन भोपाल जिला न्यायालय द्वारा प्रतिपरीक्षण का आवेदन खारिज कर दिया गया था। इसके बाद सिंह ने हाईकोर्ट में मामले को चुनौती दी।मामले में दिग्विजय सिंह की तरफ से गवाही पूरी हो चुकी है। उमा भारती की तरफ से बचाव में गवाही चल रही है।याचिका में अधिवक्ता अजय गुप्ता और राजीव मिश्रा पैरवी कर रहे है।  इसकी सुनवाई बुधवार को  न्यायाधीश एसके पालो की एकलपीठ ने की। उन्होंने उमा को नोटिस जारी कर तीन हफ्तों में जवाब मांगा है।


  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...