Breaking News
जब मध्य प्रदेश की मंत्री को महंगा पड़ा था अंबानी का विरोध | MP: कांग्रेस-बसपा गठबंधन की संभावना बरकरार, हो सकता है गुप्त समझौता | SC-ST एक्ट पर BJP में फूट: शिवराज के ऐलान से नाराज उदित राज, दे डाली यह नसीहत | दर्दनाक हादसा: दो कारों की भिड़ंत में जनपद सीईओ समेत 4 लोगों की मौत | कैसे पूरी होगी शिवराज की यह घोषणा | कांग्रेस की उम्मीदों पर फिर पानी, बसपा ने जारी की प्रत्याशियों की पहली सूची | डंपर काण्ड: CM के खिलाफ याचिका खारिज, SC ने कहा-'चुनाव लड़ना है तो मैदान में लड़ें, कोर्ट में नहीं' | बीजेपी विधायक का आरोप, सवर्ण आंदोलन के लिए हो रही विदेशी फंडिंग | व्यापमं का जिन्न फिर बाहर: दिग्विजय ने शिवराज, उमा समेत 18 के खिलाफ किया परिवाद दायर | चुनाव लड़ने का इंतजार कर रहे बीजेपी के 70 विधायकों में मचा हड़कंप! |

कटारे मामले में फिर सुनवाई टली..

जबलपुर।

 राजधानी भोपाल के बहुचर्चित रेप और अपहरण के मामले में आरोपी अटेर से कांग्रेस विधायक हेमंत कटारे की अर्जियों पर एक बार फिर सुनवाई टल गई।मामले की अगली सुनवाई 16 अगस्त को होगी। इस मामले में हाइकोर्ट ने भोपाल पुलिस को आदेश दिए हैं कि वह युवती के अलग अलग बयानों के तथ्य की जांच करेगी। मामले में जो तथ्य सामने आएंगे वे 16 अगस्त को हाइकोर्ट में पेश किए जाएंगे।अगली सुनवाई तक कटारे की मिली अंतरिम राहत बरकरार रहेगी। कोर्ट ने एक मार्च को अंतरिम राहत के तौर पर कटारे की गिरफ्तारी पर रोक लगाई थी। 

इस मामले में पीड़िता द्वारा पेश शपथ पत्र के जांच की माँग की गई। सरकार की ओर से की गई मांग को HC ने स्वीकारा कर लिया है।अब पीड़िता के शपथ पत्र का वेरिफिकेशन किया जाएगा।पीड़िता ने अपने शपथ पत्र में विधायक कटारे को निर्दोष बताया है 

जस्टिस सीवी सिरपुरकी की एकलपीठ ने मामले पर आज गुरुवार को सुनवाई की और जुड़े तथ्य मीडिया, सोशल मीडिया और प्रेस कांफ्रेंस आदि पर अभियोजन ने आपत्ति जताई। इस पर अदालत ने हेमंत कटारे ओर पीडिता के वकीलों से आश्वासन लिया कि उनके मुवक्किल ऐसा नही करेंगे। हाइकोर्ट ने मामले की मीडिया ट्रायल को गम्भीर माना। अब मामले से जुड़े तथ्य अदालत के बाहर सार्वजिनक करने को कोर्ट की अवमानना माना जायेगा। मामले की अगली सुनवाई 16 अगस्त को होगी। 

  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...