कांग्रेस में फिर दिखी गुटबाजी, दिल्ली से आये राष्ट्रीय सचिव की चुनिंदा नेताओं से मुलाक़ात

जबलपुर| लोकसभा चुनावों में मिली करारी हार के बाद कांग्रेस में अब समीक्षाओ का दौर शुरू हो गया है| यही वजह है कि दिल्ली में कांग्रेस के आला नेताओं द्वारा हार का पोस्टमार्टम करने के बाद अब लोकसभा क्षेत्रो में हार के कारणों का पता लगाया जा रहा है...इसी सिलसिले में अखिल भारतीय कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय सचिव सुधांशु त्रिपाठी हार की वजह का पता लगाने जबलपुर पहुंचे| जहां उन्होंने कांग्रेस नेताओ, कार्यकर्ताओ और संगठन के पदाधिकारियों से बंद कमरे में चर्चा की और पार्टी के लगातार जबलपुर लोकसभा में हारने के कारणों का पता लगाने की कोशिश करते हुए कांग्रेस संगठन में पदों में फेरबदल को लेकर रायशुमारी भी की गई| हालाकि इस दौरान कांग्रेस की गुटबाजी साफ़ नजर आयी|

कांग्रेस के कई नेताओं को सुधांशू त्रिपाठी के आने की सूचना ही नही दी गयी जिससे कई नेता अपनी बात पार्टी हाई कमान तक नही पहुंचा सके| एक गुट विशेष के नेताओं से सुधांशू त्रिपाठी ने मुलाक़ात की और अपनी रिपोर्ट तैयार कर ली. कांग्रेस नेता दुर्गेश पटेल ने आरोप लगाया कि सुधांशु त्रिपाठी के आने की कोई भी सूचना उन्हें नही दी गयी है उनके अलावा ऐसे कई नेता है जिन्हें इस रायशुमारी की जानकारी नही दी गयी है.अपनी ही पार्टी के नेताओं की नाराजगी से परेशान सुधांशु त्रिपाठी ने मीडिया के सामने दावा किया कि सभी कार्यकर्ताओं और नेताओं से बात की गयी है और सभी की भावनाओं का ख्याल रखा गया है|

"To get the latest news update download the app"