दावेदारों ने दिल्ली में डाला डेरा, कांग्रेस मुख्यालय के काट रहे चक्कर

जबलपुर। मध्यप्रदेश में चुानव का बिगुल बज गया है। कांग्रेस के सामने इस बार करो या मरो की स्थिति है। इसी का साथ पार्टी ने रणनीति पर काम करना शुरू कर दिया है। वहीं टिकट के दावेदारों ने दिल्ली मे डेरा जमा लिया है, टिकट के आस में पूरी ताकत के साथ लॉबिंग की जा रही है, इसके चलते कई दावेदारों ने नवरात्र भी दिल्ली में ही मनाने की तैयारी कर ली है। टिकट के दावेदारों ने ऐड़ी चोटी का जोर लगा दिया है ताकि हर हाल मे टिकट उन्हें मिल जाये इसी बात को समझते हुये कोशिश की जा रही हैं।

पार्टी सूत्रों के अनुसार पश्चिम और पाटन विधानसभा को छोड़ दिया जाये तो बाकी सभी छै सीटों के लिये दावेदार सक्रिय हैं। अपनी दावेदारी मजबूत बनाने के लिये हर उस उपाय को किया जा रहा है जिसके माध्यम से पार्टी का सिम्बल मिल जाये।  इसके अलावा पार्टी ने तमाम सीटों के लिये सर्वे भी कराया है इसे आधार मानकर टिकट का फैसला किया जायेगा। लिहाजा सिफारिश की संभावना बहुत कम रह गई है, यह और बात है कि एक दुक्का सीट पर कुछ सिफारिश दावेदार सफल हो जाये तो आश्चर्य नही करना पड़ेगा। बहरहाल इस बार उम्मीद की जा रही है कि पिछले चुनाव की अपेक्षा टिकट की घोषणा पहले होने की उम्मीद की जा रही है, छानबीन कमेटी की बैठक हो चुकी है, इसीलिये दावेदारों ने अपनी कवायद तेज कर दी है, और दिल्ली में पार्टी के मुख्यालय में चक्कर काट रहे हैं।